MP कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल प्लान, प्रवक्ता ऐसे करेंगे कमलनाथ सरकार की ब्रांडिंग

एमपी कांग्रेस में बीते हफ्ते चले हाई वोल्टेज पॉलिटिकल ड्रामे के बाद अब कांग्रेस प्रवक्ता एक दिन में सभी 52 जिलों में एक साथ प्रेस कांफ्रेंस कर कमलनाथ सरकार के ढाई सौ दिन में हुए सौ बड़े फैसलों को गिनाने का काम करेंगे.

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 8, 2019, 3:39 PM IST
MP कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल प्लान, प्रवक्ता ऐसे करेंगे कमलनाथ सरकार की ब्रांडिंग
कांग्रेस उतारेगी प्रवक्ताओं की फौज.
Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 8, 2019, 3:39 PM IST
भोपाल. मध्‍य प्रदेश कांग्रेस (Madhya Pradesh Congress) में मचे सियासी घमासान के बाद अब कांग्रेस डैमेज कंट्रोल में जुट गई है. इसके लिए कांग्रेस अपने प्रवक्ताओं (Spokespersons) की फौज उतारने की तैयारी में है, जो कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) के ढाई सौ दिन (250 Days) में सौ बड़े फैसलों (100 Big Decisions) की जानकारी जनता को देंगे.

एमपी कांग्रेस में बीते हफ्ते चले हाई वोल्टेज पॉलिटिकल ड्रामे के बाद अब कांग्रेस प्रवक्ता एक दिन में सभी 52 जिलों में एक साथ प्रेस कांफ्रेंस कर कमलनाथ सरकार के ढाई सौ दिन में हुए सौ बड़े फैसलों को गिनाने का काम करेंगे. कांग्रेस प्रवक्ता कमलनाथ सरकार के न्यू एमपी के विजन को भी पेश करेंगे. अपने 100 बड़े फैसलों की जानकारी लोगों तक पहुचाने के लिए कांग्रेस ने बारह पन्नों की बुकलेट तैयार की है, जिसे जनता दरबार में पेश किया जाएगा.

कमलनाथ सरकार ने ढाई सौ दिन
>>किसान कर्जमाफी के लिए जय किसान फसल ऋण माफी योजना.

>>सस्ती बिजली के लिए इंदिरा गृह ज्योति योजना.
>>मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना.
>>पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण देने का फैसला.
Loading...

>>एक हजार गौशाला बनाने का फैसला.
>>राइट टू हेल्थ लागू करने का प्लान बनाना.
>>राइट टू वाटर को अमल में लाना.
>>नई रेत नीति लागू करना.
>>नॉलेज कारपोरेशन लिमिटेड का गठन करने.


कांग्रेस बनाम भाजपा
कांग्रेस प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा के मुताबिक इसी हफ्ते सभी प्रवक्ता जिलों में पहुंच एक साथ प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार की उपलब्धियों को गिनाने का काम करेंगे. वहीं कांग्रेस के ढाई सौ दिन के फैसलों पर पार्टी के जवाब में बीजेपी ने 11 सितंबर को प्रदेश भर में आंदोलन का ऐलान किया है. बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा है कि सरकार के फैसलों में अगर दम है तो नगरीय निकाय चुनाव सीधे तौर पर कराने की व्यवस्था को कायम रखा जाना चाहिए.

एक दिन में 52 जिलों में एक साथ होगी प्रेस कांफ्रेंस.


बहरहाल, नगरीय निकाय चुनाव से पहले बीजेपी और कांग्रेस जनता दरबार में हाजिरी लगाने की तैयारी में है. बीजेपी जहां सरकार की विफलता के जरिए कांग्रेस की घेराबंदी में है तो वही कांग्रेस कमलनाथ सरकार के फैसलों के सहारे लोगों को अच्छे दिनों का अहसास कराने की तैयारी में. यकीनन ये तय है कि जो जनता दरबार में सफल साबित हुआ वो आगामी नगरीय निकाय चुनाव में भी सक्सेस हासिल कर सकेगा.

ये भी पढ़ें:- कमलनाथ के मंत्री ने कहा- 5 साल में पूरे करेंगे किए गए वादे, अभी खजाना खाली है

एमपी कांग्रेस के नेताओं को सोनिया गांधी ने लगाई फटकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 8, 2019, 10:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...