रामवन पथ गमन यात्रा के रास्ते में आई आचार संहिता, कांग्रेस का यू-टर्न
Bhopal News in Hindi

रामवन पथ गमन यात्रा के रास्ते में आई आचार संहिता, कांग्रेस का यू-टर्न
रामवन पथ गमन यात्रा

राम की नगरी चित्रकूट से जोर शोर के साथ शुरु हुई रामपथ वन गमन यात्रा को पुलिस ने आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए रोक दिया है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में राम नाम को लेकर फिर शोर मच गया है. चुनाव आचार संहिता के बीच निकाली जा रही रामपथ वन गमन यात्रा को बीच में रोक दिया गया है. वहीं यात्रा को रोकने पर कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो गई है. कांग्रेस ने इस यात्रा को राजनैतिक यात्रा की जगह धार्मिक यात्रा बताते हुए बीजेपी पर राम भक्तों की भावनाओं पर हमला बताया है.

दरअसल, राम की नगरी चित्रकूट से जोर शोर के साथ शुरु हुई रामपथ वन गमन यात्रा को पुलिस ने आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए रोक दिया है. डिंडौरी पुलिस ने रथ को जब्त कर संबंधित लोगों के खिलाफ पीपुल्स रिप्रेजेंटेशन एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है. (इसे पढ़ें- चाय पे चर्चा' के बाद अब एमपी में होगी 'रसोई पे चर्चा)

वहीं पुलिस की कार्यवाही पर कांग्रेस भड़क उठी है. कांग्रेस ने इस यात्रा को गैर राजनैतिक यात्रा बताते हुए धार्मिक यात्रा बताया. पहले रामपथ वन गमन यात्रा को शुरु करने का दावा करने वाली कांग्रेस ने यू टर्न लेते हुए कहा है कि यात्रा में कोई भी कांग्रेस नेता शामिल नही था, और न ही कांग्रेस के झंडे यात्रा में इस्तेमाल किए गए.



बावजूद इसके ट्रस्ट के जरिए निकाली जा रही धार्मिक यात्रा पर कार्रवाई राम भक्तों का भावना के साथ खिलवाड़ है. कांग्रेस ने इस पूरे मामले में बीजेपी नेताओं के दबाव में की गई कार्रवाई बताया है. कांग्रेस इस पूरे मामले की शिकायत अब चुनाव आयोग को करने जा रही है.
वहीं रामपथ वन गमन यात्रा पर कांग्रेस के यू टर्न पर बीजेपी ने पलटवार किया है. बीजेपी ने एन चुनाव के पहले कांग्रेस की रामभक्ति पर तंज कसा है. प्रदेश में पहले बीजेपी सरकार ने भगवन राम के वनवास के दौरान प्रदेश की धरती से निकलने वाले रास्ते को विकसित करने का एलान किया था.

लेकिन अब तक सरकार का वादा पूरा नही होने पर कांग्रेस ने अब इस मुद्दे को बीजेपी से छीनते हुए रामपथ वन गमन को विकसित करने का एलान कर दिया और यहीं कारण है कि चुनाव से पहले कांग्रेस ने रामपथ वनगमन यात्रा को भी शुरु कर दिया. हालांकि पार्टी के सभी बड़े नेताओं ने यात्रा से दूरी बनाकर रखी थी. लेकिन अब आचार संहिता लगने के बाद यात्रा को रोकने पर प्रदेश का सियासी गर्म है.

यह पढ़ें- पीएम मोदी ने अपने ड्रीम प्‍लान 'मेरा बूथ-सबसे मज़बूत' के लिए दमोह को चुना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज