MP: वफा भूल कांग्रेस ने तोड़ी सारी हदें, सिंधिया पर किया सीधा हमला- पढ़ें 10 Tweets

कांग्रेस सिंधिया को अपमानित करने का कोई मौका नहीं छोड़ती. (फाइल फोटो)

कांग्रेस सिंधिया को अपमानित करने का कोई मौका नहीं छोड़ती. (फाइल फोटो)

MP Politics: बीजेपी के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) को लेकर कांग्रेस पार्टी अक्सर ट्वीट करती रहती है. शिवराज सरकार में सिंधिया समर्थक विधायकों के मंत्री बनने के बाद कांग्रेस ने लगातार ट्वीट कर साधा निशाना.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 3:59 PM IST
  • Share this:
भोपाल. राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia)  के समर्थकों तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत के मंत्री बनने पर कांग्रेस (MP Congress) ने खासी नाराजगी व्यक्त की. कांग्रेस ने किसी न किसी तरह से शिवराज और सिंधिया की आलोचना करने में कोई कसर नहीं छोड़ी. इस मौके पर आज हम आपको पढ़वा रहे हैं वो 10 Tweets जिनमें कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य के खिलाफ जमकर जहर उगला है.

गौरतलब है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 11 मार्च 2020  को आधिकारिक रूप से भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सदस्यता ली थी. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा की मौजूदगी में उन्हें भगवा पटका पहनाया गया था. इस दौरान नड्डा ने ग्वालियर राजवंश के 'महाराज' का अभिनंदन किया तो वहीं सिंधिया ने नड्डा के साथ पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का आभार व्यक्त किया था.

पढ़िए कांग्रेस के 10 Tweets:

1- सिंधिया की मदद से कई क्रान्तिकारी मारे गये, —भिंड की मुठभेड़ में 35 क्रांतिकारी हुये थे शहीद; सिंधिया की ग़द्दारी के इस खुलासे के बाद पूरा राष्ट्र सिंधिया के कारनामों से लज्जित हुआ। - झाँसी की रानी - 35 क्रांतिकारी - 3 सरकार - और भी बहुत कुछ निगल गये।
2- जयचंदों को मलाई, वफ़ादारों को कटोरा, ख़रीदी हुई सरकार है, श्रीअंत भर रहे हैं बोरा।3- सिंधिया पहले कांग्रेस खा रहे थे, अब बीजेपी खा रहे हैं। शिवराज जी, अपनों को नज़रअंदाज़ कर जयचंदों को पूजने की सज़ा जल्द मिलने वाली है। उसूलों पर आँच केवल सिंधिया के नहीं, बीजेपी नेताओं के भी आती है, जल्द कई ज़िंदा नज़र आयेंगे।4- बेशक साल बदल गया, लेकिन तीन बातें याद रखना होगा- - सिंधिया ने ग़द्दारी की - जनादेश की क़ीमत 35 करोड़ थी - शिवराज सत्ता हवस में लोकतंत्र निगल गये।5- ख़ुफ़िया रिपोर्ट से हड़कंप, —ग़द्दार फिर कर सकता है ग़द्दारी..!6- मध्यप्रदेश का 2020 तीन आपदाओं से प्रभावित रहा- कोरोना : - 2.40 लाख लोग संक्रमित हुये - 3595 लोगों की मौत हुई सिंधिया : - मातृ संस्था से ग़द्दारी की - 15 साल बाद बनी सरकार बेची शिवराज : - लोकतंत्र की हत्या की - 25 विधायक ख़रीदे - कुर्सी हवस पूरी की7- सिंधिया पहले नेता है- —जिसे बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही दल ने भूमाफ़िया बताया है।8- सिंधिया का शिवराज पर भी दबाव शुरू, —सिंधिया समर्थकों के इस्तीफ़े की अटकलें; जनादेश बेचकर शिवराज के साथ जाने वाले सिंधिया ने अब शिवराज को अपना असली रंग दिखाना शुरू किया। मलाई बँटवारे में देरी बर्दाश्त करने को नहीं तैयार। शिवराज जी याद रखना ! इतिहास खुद को बार-बार दोहराता है।9- मलाई वितरण समिति की बैठक आज, —श्रीअंत को चाहिये सबके हिस्से की मलाई..!10- हमने कहा ग़द्दारों को सबक़ सिखाओ, —जनता ने सिंधिया को उनके घर की 7 सीटों पर पराजित कर दिया। निर्णय साफ है, ग़द्दारी नहीं माफ़ है।

मिल गया था राज्यसभा का टिकट

बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करने के करीब एक घंटे बाद ही उन्हें पार्टी ने राज्यसभा का टिकट देने का ऐलान कर दिया था. बीजेपी में शामिल होने के बाद सिंधिया ने कहा कि मैं सर्वप्रथम आदरणीय नड्डा जी, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी और गृह मंत्री श्री अमित शाह जी को धन्यवाद देना चाहूंगा कि आपने मुझे अपने परिवार में आमंत्रित किया और एक स्थान दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज