MP: बुरे वक्त में पार्टी का झंडा बुलंद करने वाले कांग्रेसियों के आएंगे 'अच्छे दिन'

कांग्रेस सरकार ने विधानसभा सत्र के बाद उन कांग्रेसियों की सूची बना रही है जिन्होंने कांग्रेस के बुरे दिनों में भी पार्टी का झंड़ा बुलंद रखा.

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 22, 2019, 11:33 AM IST
MP: बुरे वक्त में पार्टी का झंडा बुलंद करने वाले कांग्रेसियों के आएंगे 'अच्छे दिन'
कांग्रेसियों के आएंगे अच्छे दिन, नगरीय निकायों में एल्डरमैन बनाने की तैयारी
Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 22, 2019, 11:33 AM IST
सूबे की सत्ता से करीब 15 साल तक बेदखली झेलने वाली कांग्रेस अब सत्ता में आने पर अपनों को खुश करने की तैयारी में है. कांग्रेस सरकार ने विधानसभा सत्र के बाद ऐसे कांग्रेसियों की सूची बना रही है, जिन्होंने कांग्रेस के बुरे दिनों में भी पार्टी का झंड़ा बुलंद रखा. कांग्रेस में एसे चेहरों को सत्ता और संगठन में नई जिम्मेदारी देने की तैयारी की जा रही है. जिलों में कांग्रेस में दोबारा जान डालने के लिए पार्टी ने नगरीय निकायों में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को एल्डरमैन के तौर पर नियुक्त किया जाएगा. इसके लिए नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह ने बकायदा जिलों से नामों की सूची मांगी है.

जानकारी के मुताबिक सिर्फ नगरीय निकाय ही नहीं, बल्कि कांग्रेस ने निगम मंडलों में भी कांग्रेस के मौजूदा और भूले-बिसरे नेताओं को नियुक्त करने की योजना में है. इसके लिए पार्टी ने संगठन नेताओं से कहा है कि कांग्रेसियों को कैसे सत्ता में हिस्सेदार बनाया जाएगा, ये जल्द तय हो जाएगा. वहीं बीजेपी सवाल पूछ रही है कि जब सरकार के पास विकास के लिए पैसा नहीं है, तो अपनों को खुश करने के लिए पैसा कहां से आया.

कमलनाथ सरकार की कोशिश सत्ता और संगठन में पार्टी कार्यकर्ताओं को अच्छे दिनों का अहसास कराने की है.


दरअसल, प्रदेश की सत्ता पर काबिज हुए कांग्रेस सरकार को सात महीने हो चुके हैं. अब पार्टी की कोशिश सत्ता और संगठन में पार्टी कार्यकर्ताओं को अच्छे दिनों का अहसास कराने की है. तो वहीं सरकार के खाली खजाने को लेकर हमलावर बीजेपी को सत्तारुढ़ कांग्रेस को घेरने का एक और मौका मिल गया है.

ये भी पढ़ें- MP: जमीनी विवाद में दो समुदायाओं में हिंसक झड़प और फायरिंग

ये भी पढ़ें- बच्चा चोर समझकर भीड़ ने युवक को पीटा, निकला बाइक चोर
First published: July 22, 2019, 11:32 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...