• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • CAA और राजगढ़ थप्पड़ कांड के बाद सरकार अब स्कूलों में पढ़ाएगी संविधान का पाठ

CAA और राजगढ़ थप्पड़ कांड के बाद सरकार अब स्कूलों में पढ़ाएगी संविधान का पाठ

CAA पर बवाल के बाद सरकार अब स्कूलों में पढ़ाएगी संविधान का पाठ. (फाइल फोटो)

CAA पर बवाल के बाद सरकार अब स्कूलों में पढ़ाएगी संविधान का पाठ. (फाइल फोटो)

CAA को लेकर देशभर में हो रहे हंगामे और राजगढ़ की घटना के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने स्‍कूलों में संविधान पढ़ाए जाने का आदेश जारी किया है.

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश के राजगढ़ में कलेक्टर और बीजेपी (BJP) कार्यकर्ताओं के बीच उपजे विवाद के बाद अब कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) एमपी के स्कूलों में संविधान का पाठ पढ़ाएगी. स्कूल शिक्षा विभाग ने इसका आदेश जारी कर दिया है. स्कूलों में अब सप्ताह के आखिरी दिन यानि शनिवार को संविधान पर चर्चा करायी जाएगी.

शनिवार को संविधान का पाठ
मध्य प्रदेश के अब सभी सरकारी स्कूलों में संविधान पढ़ाया जाएगा, ताकि बच्चो में अपने संविधान के प्रति समझ पैदा हो सके और वो देश की संवैधानिक व्यवस्था को समझ सकें. साथ ही उन्हें भारत के संविधान की पूरी जानकारी मिल सके. इसके लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने सकुर्लर जारी कर दिया है. इसमें कहा गया है कि संविधान की उद्देशिका (प्रस्‍तावना) बच्चों को पढ़ाई जाए. प्राइमरी और मिडिल स्कूलों में सप्ताह के आखिरी दिन शनिवार को बच्चों को सविधान के बारे में अलग से जानकारी दी जाएगी. जिससे छात्रों को उनके मौलिक अधिकारों ओर कर्तव्यों के बारे में जानकारी मिल सकेगी.

एक घंटे पहले की बात
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने एक कार्यक्रम के दौरान स्‍कूलों में संविधान पढ़ाये जाने की बात कही उसके ठीक ए घंटे बाद स्कूल शिक्षा विभाग ने एक आदेश जारी किया. इसमें स्कूलों में अनिवार्य रूप से संविधान के बारे में छात्रों को अवगत कराने का ऐलान है. हालांकि, इस मामले में यह तय नहीं हुआ है कि यह किन-किन स्कूलों में पढ़ाया जाएगा, या किस क्साल से इसकी शुरुआत होगी.

संविधान पर चर्चा
CAA को लेकर देशभर में हो रहे हंगामे और राजगढ़ की घटना के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने ये फैसला लिया है, ताकि बच्चों को अपने संविधान के बारे में सही जानकारी मिल सके. वो आगे जाकर देश के संविधान का मान रखें. साथ ही उन्हें अपने अधिकार और कर्तव्यों की जानकारी हो. बच्चों को संविधान की जानकारी हो सके ताकि वह आगे चलकर देश के संविधान का मान रखें साथ ही उसे स्वयं के मौलिक अधिकारों की जानकारी हो.

ये भी पढ़ें-लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की तो खैर नहीं, मनचलों की नकेल कसेगी ये सैंडल

MP में ऐसे चल रहा है ब्लैक मनी को व्हाइट करने का खेल, कोलकाता में है अड्डा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज