प्रज्ञा ठाकुर ने बयानों के बाद अब शुरू किया पोस्टर वॉर, उसमें लिखा...

प्रज्ञा ठाकुर जब से चुनाव प्रचार में उतरी हैं तब से वो लगातार आपत्तिजनक बयान दे रही हैं जिन पर लगातार विवाद उठ रहा है.

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 27, 2019, 2:23 PM IST
प्रज्ञा ठाकुर ने बयानों के बाद अब शुरू किया पोस्टर वॉर, उसमें लिखा...
प्रज्ञा ठाकुर
Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 27, 2019, 2:23 PM IST
लोकसभा चुनाव में सबसे हाई प्रोफाइल सीट बन चुकी भोपाल में बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर और दिग्विजय सिंह के बयान रोज़ सुर्ख़ियों में हैं. प्रज्ञा ठाकुर लगातार दिग्विजय पर हमलावर हैं, लेकिन दिग्विजय या तो ख़ामोश हैं या फिर शालीनता से उनका जवाब दे रहे हैं. प्रज्ञा ठाकुर के रोज विवादित बयानों के बाद अब घर के बाहर लगे पोस्टर चर्चा में हैं.

भोपाल में बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के घर पर दिग्विजय सिंह को घेरने के लिए नए पोस्टर चस्पा किए गए हैं. इन पोस्टर्स पर दिग्विजय सिंह का नाम लिए बिना बंटाढार का अंत लिखा गया है. वहीं प्रज्ञा को भगवा संत करार दिया गया है.

प्रज्ञा ठाकुर जब से चुनाव प्रचार में उतरी हैं तब से वो लगातार आपत्तिजनक बयान दे रही हैं जिन पर लगातार विवाद उठ रहा है. उन्होंने सबसे पहले महाराष्ट्र ATS चीफ हेमंत करकरे की शहादत पर कहा था कि उन्हें मेरा श्राप लगा. उसके बाद बाबरी मस्जिद विध्वंस पर विवादित बयान देने के काऱण उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया. यहां तक कि इन बयानों के कारण चुनाव आयोग को भी उन्हें नोटिस जारी करना पड़ा. उसके बाद सीहोर में चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने दिग्विजय सिंह का नाम लिए बिना उन्हें आतंकी कहा था. बाद में वो अपने बयान से पलट गयी थीं.

ये भी पढ़ें -शहीदों का नाम लेकर घिरीं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर, अब कांग्रेस ने दर्ज करवाया मामला

साध्वी प्रज्ञा ने सेना के नाम पर मांगे वोट, कांग्रेस ने EC से की शिकायत

प्रज्ञा ठाकुर अब सेना के नाम पर वोट मांगने वाले बयान से भी किनारा कर लिया है. उनका कहना है मैंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया. मैं ऐसा कुछ नहीं कहती जिससे राष्ट्रधर्म का नुकसान हो.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 27, 2019, 2:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...