• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • BHOPAL CORONA CURFEW MAY INCREASE IN MP EVEN AFTER JUNE 1 GOVERNMENT IN DILEMMA AFTER A LETTER MPSG

MP में 1 जून के बाद भी बढ़ सकता है कोरोना कर्फ़्यू, केंद्र के पत्र के बाद दुविधा में सरकार

केंद्र ने राज्य को सलाह दी है कि जून के आखिरी तक यानी कि 30 जून तक प्रदेश में लॉकडाउन को बढ़ाया जाए. (सांकेतिक फोटो)

Bhopal. आज शाम को मंत्री समूह मुख्यमंत्री के सामने प्रेजेंटेशन देगा. उसमें मंत्री बताएंगे कि किस जिले में किस तरह से कोरोना कर्फ्यू में ढील दी जानी है. इस संबंध में लगातार बैठकों का दौर जारी है.

  • Share this:
 भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) 1 जून से अनलॉक (Unlock) होगा या नहीं. इस पर सरकार दुविधा में पड़ गयी है. सरकार 1 जून से जिलों को अनलॉक करने की तैयारी में है. इन तैयारियों के बीच केंद्र सरकार के एक पत्र ने उसे दुविधा में डाल दिया है.

केंद्र सरकार ने राज्यों को सलाह दी है कि वह लॉकडाउन को जून के आखिरी तक जारी रखें. प्रदेश के मुख्य सचिव को मिले पत्र के मुताबिक केंद्र ने राज्य को सलाह दी है कि जून के आखिरी तक यानी कि 30 जून तक प्रदेश में लॉकडाउन को बढ़ाया जाए.

केंद्र की सलाह
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने स्वास्थ्य विभाग के पत्र का हवाला देते हुए प्रदेश सरकार को सलाह दी है कि कोरोना संक्रमण नियंत्रित होने के बावजूद अनलॉक पर सरकार गंभीरता से विचार करें. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य को सलाह दी है कि जून के आखिरी तक लॉकडाउन को बढ़ाया जाए. इसके पीछे केंद्रीय गृह मंत्रालय का तर्क है कि कोरोना का संक्रमण भले कम हो रहा हो,  लेकिन अभी खत्म नहीं हुआ है. एक्टिव केस लगातार सामने आ रहे हैं. ऐसे में जरूरत है की सख्ती बरकरार रखी जाए.

मंत्री समूह की बैठक
प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की अध्यक्षता में आज मंत्री समूह की वर्चुअल बैठक हुई. बैठक में मंत्रियों की तरफ से  कई तरह के सुझाव दिए. इन सुझावों को आज शाम को सीएम शिवराज के सामने रखा जाएगा और उसके बाद 31 मई को  गृह विभाग अनलॉक पर नई गाइडलाइन जारी करेगा. लेकिन अब केंद्रीय गृह मंत्रालय के पत्र के बाद सरकार इस पर विचार करेगी फिर कौन से जिलों को अनलॉक किया जाए और कौन से जिलों में कोरोना कर्फ्यू बढ़ाया जाए.

सीएम के सामने प्रजेंटेशन
दूसरी तरफ राज्य सरकार ने प्रदेश को अनलॉक करने की तैयारी कर ली है. इस पर आज शाम को मंत्री समूह मुख्यमंत्री के सामने प्रेजेंटेशन देगा. उसमें मंत्री बताएंगे कि किस जिले में किस तरह से कोरोना कर्फ्यू में ढील दी जानी है. इस संबंध में लगातार बैठकों का दौर जारी है.

कम हुआ संक्रमण
प्रदेश के 7 जिले अभी कोरोना संक्रमण के मामले में 5 फीसदी से ज्यादा आंकड़ों के साथ ऊपर हैं. गुरुवार को प्रदेश का पॉजिटिविटी रेट 2.8 था. ऐसे में सरकार क्या फैसला लेती है अब इस पर सबकी नजरें होंगी.