भोपाल में आज रात 9 बजे से 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू, स्वास्थ्य आयुक्त संजय गोयल हटाए गए

कोरोना कर्फ्यू के दौरान ज़रूरी सामान की आपूर्ति जारी रहेगी.

कोरोना कर्फ्यू के दौरान ज़रूरी सामान की आपूर्ति जारी रहेगी.

भोपाल में कोरोना कर्फ्यू अब आज 12 अप्रैल की रात से लेकर 19 अप्रैल की सुबह 6:00 बजे तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा. भोपाल में हुई कोरोना क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में ये फैसला लिया गया.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) में कोरोना के बिगड़े हालात के बीच दो बड़े फैसले लिए गए हैं. भोपाल में आज रात 9 बजे से कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) लगाया जा रहा है. जो 19 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक   रहेगा. भोपाल में हुई कोरोना क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में ये फैसला किया गया. दूसरे फैसले में प्रदेश के स्वास्थ्य आयुक्त को बदल दिया गया है. संजय गोयल का तबादला कर दिया गया है. उनकी जगह आकाश त्रिपाठी को स्वास्थ्य आयुक्त की जिम्मेदारी दे दी गयी है. त्रिपाठी अब एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी के साथ स्वास्थ सेवाओं की जिम्मेदारी भी संभालेंगे. संजय गोयल को मंत्रालय में सचिव बनाया गया है.

पूरे भोपाल में 19 तक कोरोना कर्फ्यू

भोपाल में कोरोना कर्फ्यू अब आज 12 अप्रैल की रात से लेकर 19 अप्रैल की सुबह 6:00 बजे तक कोरोना कर्फ्यू रहेगा. भोपाल में हुई कोरोना क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में ये फैसला लिया गया. इस दौरान लोगों को जरूरत का सामान मिल सकेगा. लोगों को बेवजह घर से निकलने की अनुमति नहीं होगी.

Youtube Video

संजय गोयल की जगह आकाश त्रिपाठी

मध्य प्रदेश में कोरोना के कारण हालात खराब हैं. सरकार रोज हालात की समीक्षा कर फैसले ले रही है. इस बीच किया गया ये बड़ा फैसला है. आकाश त्रिपाठी पिछले साल कोरोना संक्रमण जब फैलना शुरू हुआ था उस वक्त इंदौर कमिश्नर थे. लेकिन कुछ समय बाद ही उनका तबादला एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी भोपाल कर दिया गया था.

पूर्व मंत्री पर FIR



इससे पहले आज एक और बड़ा मामला हुआ. भोपाल के जेपी अस्पताल के डॉक्टर योगेन्द्र श्रीवास्तव से दुर्व्यवहार के मामले में पूर्व मंत्री पी सी शर्मा और उनके समर्थक पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की गयी. हबीबगंज थाना पुलिस ने उनके खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने सहित अन्य धाराओं में एफआईआर की है.

दो दिन पहले की घटना

दो दिन पहले पहले पूर्व मंत्री और पूर्व पार्षद ने जे पी हॉस्पिटल के डॉक्टर श्रीवास्तव के साथ अभद्र व्यवहार किया था. श्रीवास्तव के इस्तीफा देने पर मामले ने तूल पकड़ा था. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी इस मामले में ट्वीट किया था. जेपी हॉस्पिटल के सीएमएचओ आरके श्रीवास्तव  के लैटर और डॉक्टर के इस्तीफे वाले पत्र के बाद हबीबगंज पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है.



कोरोना की रफ्तार

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण (Corona virus infection) के सर्वाधिक 5,939 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 3,38,145 तक पहुंच गई है. राज्य में रविवार को कोविड-19 के 919 नए मामले इंदौर में आए, जबकि भोपाल में 793, ग्वालियर में 458, जबलपुर में 402 एवं उज्जैन में 218 नए लोग संक्रमित पाए गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज