अपना शहर चुनें

States

Madhya Pradesh: बोर्ड परीक्षाओं का पैटर्न बदला, मिलेगी OMR शीट, लिखकर भी देना होगा जवाब

10वीं-12वीं एमपी बोर्ड का पैटर्न बदल गया है. (प्रतिकात्मक तस्वीर)
10वीं-12वीं एमपी बोर्ड का पैटर्न बदल गया है. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल(MP Board of Secondary Education) की बोर्ड परीक्षाओं में इस बार OMR (Optical mark recognition) शीट का भी इस्तेमाल होगा. अब हर पेपर में 50 प्रश्न होंगे, कुल अंक 100 ही रहेंगे. तीन और चार अंकों के प्रश्न उत्तर पुस्तिका में हल करना होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 25, 2021, 7:28 PM IST
  • Share this:
भोपाल. कोरोना महामारी का हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी बोर्ड परीक्षाओं( High School And Higher Secondary Board Exams) पर सीधा असर पड़ा है. मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने इस बार बोर्ड परीक्षा का पैटर्न बदल दिया है. परीक्षाओं में अब OMR शीट का भी इस्तेमाल होगा. अब हर पेपर में 50 प्रश्न होंगे कुल अंक 100 ही रहेंगे. तीन और चार अंकों के प्रश्न उत्तर पुस्तिका में हल करना होंगे. जबकि, OMR शीट में काले गोले लगाकर पहले आधे घंटे में 30 प्रश्न हल करने होंगे. 20 सवालों के जवाब उत्तर पुस्तिकाओं में लिखने होंगे.

माध्यमिक शिक्षा मंडल (MP Board of Secondary Education) के अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया ने सोमवार को परीक्षा से जुड़ी कई जानकारियां दीं. जुलानिया एयरपोर्ट रोड स्थित नरसिंह वाटिका में आयोजित एमपी बोर्ड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने आए थे. उन्होंने बताया कि OMR शीट भरने के बाद छात्रों को 20 सवाल के उत्तर कॉपी में लिखने होंगे. इसके लिए बचे हुए ढाई घंटे का समय दिया जाएगा. 10 प्रश्न 3 अंक के, 10 प्रश्न 4 अंकों के होंगे. गणित विषय का पेपर आखिरी में होगा.


बोर्ड ने 30 फीसदी कम कर दिया कोर्स


एमपी बोर्ड के अध्यक्ष राधेश्याम जुलानिया ने बताया कि कोरोना काल में पढ़ाई प्रभावित होने की वजह से बोर्ड की मंशा है कि 70 फीसदी सिलेबस से ही पूछे सवाल पूछे जाएं. कोर्स में 30 फीसदी की कटौती की गई है. इसलिए इस बार स्टूडेंट्स को 30 सवालों को OMR शीट पर टिक लगाकर को हल करने होंगे. इस शीट की जांच भोपाल में होगी. उन्होंने बताया कि इस बार कॉपियां भी पिछले सालों की तरह अन्य जिलों को नहीं भेजी जाएंगी.


प्रश्न बैंक से पढ़कर परीक्षा देंगे तो नहीं आएगी समस्या


जुलानिया ने बताया कि बोर्ड अपनी वेबसाइट पर सभी विषयों के प्रश्न बैंक अपलोड कर देगा. इस प्रश्न बैंक में 500 से ज्यादा प्रश्न होंगे. इसी बैंक के आधार पर ही परीक्षा ली जाएगी. बाहर से कोई प्रश्न नहीं आएगा. स्टूडेंट्स इस बैंक से पढ़कर परीक्षा देंगे, तो उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी.

बोर्ड परीक्षाएं 30 अप्रैल से


गौरतलब है कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होकर मई के तीसरे सप्ताह तक चलेंगी. बोर्ड द्वारा जल्द ही परीक्षा का टाइम टेबल घोषित कर दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज