VIDEO: दिवंगत Corona Warrior की बेटी ने मांगी CM शिवराज से मदद, कहा- पापा का सपना पूरा करना चाहती हूं
Bhopal News in Hindi

VIDEO: दिवंगत Corona Warrior की बेटी ने मांगी CM शिवराज से मदद, कहा- पापा का सपना पूरा करना चाहती हूं
दिवंगत corona वॉरियर की बेटी ने मांगी CM शिवराज से मदद (फाइल फोटो)

टीटीनगर में रहने वाले योगेन्द्र सोनी के परिवार में 3 साल का बेटा कृष्णा, पत्नी रेखा और मां विमला सोनी जिस दिन कोरोना को हराकर घर लौटे उसके अगले दिन उनके घर के एकलौते सहारे योगेन्द्र ने हमीदिया में दम तोड़ दिया.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
भोपाल. मध्य प्रदेश में दिवंगत कोरोना योद्धा (Corona Warrior) की पत्नी और बच्ची ने सूबे के मुखिया सीएम शिवराज सिंह चौहान से मदद की गुहार लगाई है. जहांगीराबाद थाने में डायल 100 के पायलट योगेंद्र सोनी महीने भर पहले डॉक्टरों की लापरवाही के कारण इस दुनिया को छोड़ कर चले गए. अब इस कोरोना योद्धा के मासूम बच्चों ने सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) को पत्र लिख और वीडियो के जरिये मदद मांगी है.

सीएम शिवराज से मांगी मदद
कोरोना के दौरान लॉकडाउन में सरकार लगातार अस्पतालों में मरीजों का इलाज करने के लिए आदेश जारी कर रही है. लेकिन लॉकडाउन में निजी अस्पतालों में इलाज नहीं मिल पाने के कारण जहां बीते महीने तक लोग परेशान रहे, वहीं सरकारी अस्पतालों में भी कोरोना के डर के कारण मरीजों के इलाज में लापरवाही बरती गई. टीटीनगर में रहने वाले योगेन्द्र सोनी के परिवार में 3 साल का बेटा कृष्णा, पत्नी रेखा और मां विमला सोनी जिस दिन कोरोना को हराकर घर लौटे उसके अगले दिन उनके घर के एकलौते सहारे योगेन्द्र ने हमीदिया में दम तोड़ दिया. अब इस परिवार की सहायता के लिए अभी तक किसी ने मदद के हाथ नहीं बढ़ाए हैं. थक हार कर दिवंगत कोरोना योद्धा की पत्नी और 5 साल की बेटी ने सीएम से मदद की गुहार लगाई है.





'पुलिस इंस्पेक्टर बनना चाहती हूं'


जहांगीराबाद थाने में डायल 100 वाहन के पायलट की महीने भर पहले इलाज न मिलने से मौत हो गई थी. दिवंगत पायलेट योगेंद्र सोनी का 3 साल का बेटा, पत्नी और मां कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. जिस दिन जंग जीतकर वे घर लौटे उसके दूसरे दिन हमीदिया अस्पताल में योगेंद्र की मौत हो गई. पत्नी रेखा सोनी ने सीएम शिवराज को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई है. मासूम बेटी तनिष्का ने वीडियो मैसेज भेजकर मामा शिवराज से कहा है कि मैं पापा का सपना पूरा कर पुलिस इंस्पेक्टर बनना चाहतीं हूं जिसके लिए मैं अच्छे स्कूल में पढ़ाना चाहती हूं प्लीज मेरी मदद करिए.

पत्र में परिवार का छलका दर्द
पत्र में ये लिखा है की परिवार के पास कोई आय का स्रोत्र नहीं है. ना तो योगेन्द्र की पत्नी के पास रोजगार है ना ही परिवार के बच्चों के लिए पालन पोषण करने में सक्षम है. बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं और पत्नी को नौकरी की सख्त दरकार है जिसके लिए वो सीएम से मिलने भी कई बार पहुंची लेकिन सीएम शिवराज से मिलना मुमकिन नहीं हो पाया. अब सोशल मीडिया के जरिए परिवार सीएम से मदद की गुहार लगा रहा है.

कोरोना योद्धा की लापरवाही के कारण हुई मौत
मृतक योगेन्द्र की पत्नी रेखा ने बताया कि जिस दिन परिवार के कोरोना संक्रमित परिवार के सदस्य चिरायु से डिस्चार्ज होने वाले थे उसी दिन सुबह कोरोना योद्धा योगेन्द्र अपने भतीजे को साथ लेकर खुद बाइक चलाकर कमला नेहरु अस्पताल से डायलिसिस कराकर लौटे थे. योगेन्द्र को तेज पेट दर्द की शिकायत थी. लेकिन डॉक्टरों ने डायलिसिस ठीक से नहीं किया. कमला नेहरु के डॉक्टर्स ने जल्दी-जल्दी डायलिसिस कर अन्य परिवार सदस्यों को अस्पताल से जाने को कह दिया. उस समय योगेन्द्र का ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ था लेकिन कई बार कहने पर भी डॉक्टरों ने उनका बीपी चेक नहीं किया.

रेखा ने बताया कि 28 अप्रैल को रात में जब उन्हें तेज दर्द होने लगा तो उन्हें जेपी अस्पताल ले गए जहाँ से हमीदिया रेफर कर दिया. वहां तो डॉक्टर्स का रवैया इतना खराब था कि योगेन्द्र दर्द से तड़पते रहे में उनके सामने कई बार हाथ-पैर जोड़कर रेखा उन्हें देखने की गुहार लगाती रही लेकिन डॉक्टर्स ने उन्हें हाथ नहीं लगाया. बल्कि रेखा ने बाहर निकल जाने को कहा. जब पति ज्यादा चिल्ला रहे थे तो किसी कर्मचारी से उन्हें वेंटिलेटर लगवाया उनके मुंह से खून निकलने लगा और तो और वो ठण्ड से कांप रहे थे. कम्बल मांगा तो पास के बेड पर किसी मरीज को ओढ़ाया हुआ कम्बल उन्हें दे दिया गया. अगले दिन दोपहर 1 बजे कोरोना योद्धा ने दम तोड़ दिया. परिवार की निगाहें अब सरकारी मदद पर टिकी हैं ताकि बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर पिता का सपना पूरा कर पाए और पत्नी नौकरी के जरिए परिवार का सही तरीके से जीवन यापन कर पाए.

ये भी पढ़ें: भोपाल: कंटेनमेंट मुक्त हुआ राजभवन, 385 लोगों की जांच रिपोर्ट आई निगेटिव
First published: June 1, 2020, 9:17 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading