लाइव टीवी

भोपाल में corona का तेजी से बढ़ता ग्राफ, शहर के केवल तीन वार्ड सुरक्षित
Bhopal News in Hindi

Puja Mathur | News18Hindi
Updated: May 23, 2020, 7:28 PM IST
भोपाल में corona का तेजी से बढ़ता ग्राफ, शहर के केवल तीन वार्ड सुरक्षित
भोपाल में corona का तेजी से बढ़ता ग्राफ (फाइल फोटो)

भोपाल में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की सर्वे, स्क्रीनिंग और सेंपलिंग की टीमें लगातार काम कर रहीं हैं. जिन घरों में लोगों को क्वारेंटाइन करने के लिए अलग-अलग कमरे नहीं हैं, वहां से कुछ सदस्यों को सरकारी क्वारेंटाइन सेंटर्स में भेजा जा रहा है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना (Corona) आउट ऑफ कंट्रोल हो गया है. यहां पर हालात सुधरने के बजाए बिगड़ते जा रहे हैं. यहां लगातार नए पेशेंट्स मिल रहे हैं. बढ़ते संक्रमण ने सरकार को चिंता में डाल दिया है. प्रदेश के 52 में से 49 जिलों में कोरोना पहुंच चुका है. वहीं बात अगर राजधानी की करें तो इंदौर के बाद भोपाल में कोरोना अपना पैर पसारता ही जा रहा है. संक्रमण का ग्राफ तेजी से शहर में बढ़ता जा रहा है. दिन प्रतिदिन शहर के हॉटस्टॉप जोन में से कोरोना इंन्फेक्टेड मरीज मिलते जा रहे हैं. शहर में कोरोना के मरीजों की तादाद तेजी से बढ़ रही है. कोरोना के कारण राजधानी भोपाल (Bhopal) के 10 वार्डों में अब तक साढ़े 4 सौ से ज्यादा मरीज मिल चुके हैं. आलम ये है कि शहर में मिले 1191 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 22 फीसदी मरीज अकेले दो वार्डों से निकल कर सामने आए हैं. ये मरीज वार्ड नंबर 34 और 42 के हैं.

राजधानी के किस वार्ड में कितने मरीज
वार्ड 34 में 156 मरीज, वार्ड 42 में 103 मरीज, वार्ड 20 में 48 मरीज, वार्ड 8 में 28 मरीज, वार्ड 6 और 32 में 26-26 मरीज,वार्ड 69 में 24 मरीज,वार्ड 41 और 53 में 23-23 मरीज और वार्ड 9 में 22 मरीज मिले हैं. स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शहर में 1191 मरीजों में से 58 वार्डों में 10 से कम मरीज मिले हैं. जबकि 14 वार्ड ऐसे हैं जहां 10 से 20 पॉजीटिव मिले हैं. वार्ड क्रमांक 5, 16 और 22 में फिलहाल कोई कोरोना का मरीज नहीं मिला है.

news18
फाइल फोटो.




इन अस्पतालों मे चल रहा है इलाज


शहर में कोविड मरीजों का फिलहाल 3 जगहों पर इलाज चल रहा है. हमीदिया अस्पताल,एम्स और चिरायु अस्पताल. कोविड सेंटरों में सबसे ज्यादा मरीज चिरायु अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं. यहां 800 बिस्तरों की सुविधा है. हमीदिया अस्पताल और एम्स के 80 ब्लॉक कोविड-19 के लिए स्पेशल बनाए गए हैं. बीएमएचआरसी के कोविड वार्ड में 40 बिस्तर मरीजों के लिए आरक्षित किए गए हैं. यहां आईसीयू, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन सप्लाई, लाइफ सपोर्ट सिस्टम वाली डेडिकेट एंबुलेंस जैसी तमाम जरूरी व्यवस्थाएं की गई हैं. इसके अलावा गंभीर मरीजों के लिए बंसल और नर्मदा अस्पताल में 10-10 बिस्तर आरक्षित किए गए हैं.

अलर्ट मोड पर प्रशासन
प्रशासन ने अब पूरी ताकत इन्हीं क्षेत्रों में लगा रखी है. स्वास्थ्य विभाग की सर्वे, स्क्रीनिंग और सेंपलिंग की टीमें काम कर रहीं हैं. जिन घरों में लोगों को क्वारेंटाइन करने के लिए अलग-अलग कमरे नहीं हैं, वहां से कुछ सदस्यों को सरकारी क्वारेंटाइन सेंटर्स में भेजा जा रहा है. इनमें 60 साल से ऊपर के हाई रिस्क बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं, बच्चे और सर्दी, खांसी बुखार के मरीजों को चिन्हित किया जा रहा है.

एनआईसी की वेबसाइट पर जान सकते हैं शहर का हाल
भोपाल एन.आई.सी की बेबसाइट पर कोरोना संक्रमण के सम्बन्ध में कंटेनमेंट क्षेत्र, ग्रीन जोन, संक्रमित लोगों की संख्या, एक्टिव मरीजो की संख्या के नक्शे भी इस वेबसाइट पर उपलब्ध हैं. अन्य जानकारी के साथ जिला प्रशासन भोपाल ने समय समय पर जारी किए गए आदेश और निर्देश भी वेबसाइट पर देखे जा सकते हैं. जिला कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने बताया कि एनआईसी भोपाल ने एक वेबसाइट बनाई गई है जिसमें सभी लोग इस वेबसाइट पर जाकर कंटेनमेंट क्षेत्र, रेड जोन ,एक्टिव मरीजों की संख्या और उनके क्षेत्र को आसानी से देख सकते हैं. आम लोगों की सुविधा की दृष्टि और सुरक्षात्मक उपाय को देखते हुए ये वेबसाइट शुरू की गई है. वेबसाइट को लॉगिन करके शहरवासी अपने आसपास के क्षेत्रों के एक्टिव मरीजों की संख्या के साथ ही विगत दिनों जिला प्रशासन की ओर से समय-समय पर जारी किए गए आदेश निर्देशों को भी देख सकेंगे. एनआईसी ने यह वेबसाइट शुरू की है जिसमें जोन, प्रतिबंधात्मक आदेश आदि की पूरी जानकारी उपलब्ध रहेगी.कोई व्यक्ति कभी भी इस वेबसाइट से जानकारी ले कर सकता है.

ये भी पढ़ें: इंदौर में corona से जंग लड़ेंगे फीवर क्लीनिक, संदिग्धों को मिलेगा तत्काल उपचार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 7:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading