Covid-19 Update: मध्य प्रदेश में सामने आए कोरोना के सर्वाधिक 5939 नए मामले, 24 मरीजों की मौत

अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में अब तक 2,98,645 मरीज स्वस्थ हो गये हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में अब तक 2,98,645 मरीज स्वस्थ हो गये हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Corona News: मध्‍य प्रदेश में मृतकों की संख्या अब बढ़कर 4,184 हो गई है. इंदौर एक बार फिर से कोरोना संक्रमण का केंद्र बनता जा रहा है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण (Corona virus infection) के सर्वाधिक 5,939 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 3,38,145 तक पहुंच गई है. राज्य में पिछले 24 घंटों में इस बीमारी से 24 और व्यक्तियों की मौत हुई है. प्रदेश में मृतकों की संख्या अब बढ़कर 4,184 हो गई है. यह जानकारी मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के एक अधिकारी ने दी है. उन्होंने कहा कि राज्य में रविवार को कोविड-19 के 919 नए मामले इंदौर में आए, जबकि भोपाल में 793, ग्वालियर में 458, जबलपुर में 402 एवं उज्जैन में 218 नए लोग संक्रमित पाए गए.

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में अब तक 2,98,645 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और 35,316 मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है. रविवार को 3,306 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

बता दें कि कोरोना संक्रमण से मरने वालों के अंतिम संस्कार के लिए भोपाल के विश्राम घाटों में अब जगह कम पड़ऩे लगी है. हर रोज विश्राम घाट की क्षमता से ज्यादा शव पहुंच रहे हैं. यही कारण है कि अब विश्राम घाट कमेटी नई जगह तैयार कर रही है, जिससे कि शवों के अंतिम संस्कार में किसी तरीके की कोई दिक्कत न हो. भदभदा और सुभाष विश्राम घाट में कोरोना से मरने (corona death) वाले लोगों के अंतिम संस्कार के लिए स्थान नहीं मिल रहा. हालात बिगड़ रहे हैं. भदभदा विश्राम घाट कमेटी के अध्यक्ष अरुण चौधरी ने बताया कि अब 10 से 12 शवों के अंतिम संस्कार के लिए नई जगह तैयार की है. पहले 18 से 20 लाशों के अंतिम संस्कार की विश्राम घाट में व्यवस्था थी.

2 एकड़ में तैयार हो रहा अस्थाई घाट
भदभदा विश्राम घाट में अभी 10 से 12 शवों के अंतिम संस्कार के लिए जगह तैयार की गई थी, लेकिन अब विश्राम घाट परिसर में खाली पड़ी 2 एकड़ पर बुलडोजर चलाकर उसे अस्थाई रूप से विश्राम घाट में तब्दील किया जा रहा है. यहां पर 30 शवों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था की जाएगी. दो-तीन दिन में इस विश्राम घाट में 50 शवों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था हो सकेगी. वहीं, सुभाष विश्राम घाट में खाली पड़े पार्क में अंतिम संस्कार की व्यवस्था की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज