Home /News /madhya-pradesh /

विधानसभा उपाध्यक्ष के फार्म हाऊस पर मिला बाघ का शव, राजेंद्र बोले- कहां से आया मुझे नहीं पता?

विधानसभा उपाध्यक्ष के फार्म हाऊस पर मिला बाघ का शव, राजेंद्र बोले- कहां से आया मुझे नहीं पता?

विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने अपने बांधवगढ़ स्थित फार्म हाउस पर मृत बाघ शावक मिलने के मामले में सफाई दी है. राजेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें मीडिया के जरिये ही इस बात की जानकारी मिली है और उनका ये फार्म हाउस काफी पुराना है और वे साल दो साल में एकाध बार ही वहां जाते हैं. विधानसभा उपाध्‍यक्ष राजेंद्र सिंह ने भोपाल में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उनका चौकीदार भी वहां यदा-कदा ही रहता है.

विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने अपने बांधवगढ़ स्थित फार्म हाउस पर मृत बाघ शावक मिलने के मामले में सफाई दी है. राजेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें मीडिया के जरिये ही इस बात की जानकारी मिली है और उनका ये फार्म हाउस काफी पुराना है और वे साल दो साल में एकाध बार ही वहां जाते हैं. विधानसभा उपाध्‍यक्ष राजेंद्र सिंह ने भोपाल में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उनका चौकीदार भी वहां यदा-कदा ही रहता है.

विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने अपने बांधवगढ़ स्थित फार्म हाउस पर मृत बाघ शावक मिलने के मामले में सफाई दी है. राजेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें मीडिया के जरिये ही इस बात की जानकारी मिली है और उनका ये फार्म हाउस काफी पुराना है और वे साल दो साल में एकाध बार ही वहां जाते हैं. विधानसभा उपाध्‍यक्ष राजेंद्र सिंह ने भोपाल में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उनका चौकीदार भी वहां यदा-कदा ही रहता है.

अधिक पढ़ें ...
विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह ने अपने बांधवगढ़ स्थित फार्म हाउस पर मृत बाघ शावक मिलने के मामले में सफाई दी है. राजेंद्र सिंह का कहना है कि उन्हें मीडिया के जरिये ही इस बात की जानकारी मिली है और उनका ये फार्म हाउस काफी पुराना है और वे साल दो साल में एकाध बार ही वहां जाते हैं. विधानसभा उपाध्‍यक्ष राजेंद्र सिंह ने भोपाल में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उनका चौकीदार भी वहां यदा-कदा ही रहता है.

राजेंद्र सिंह ने शावक का शिकार होने पर भी संदेह जताया. हालांकि, उनका कहना है कि सरकार को पूरे मामले की जांच करवानी चाहिए. विधानसभा उपाध्यक्ष का कहना है कि इस संबंध में उनकी किसी से भी बात नहीं हुई है न तो अपने चौकीदार से और ना ही शासन-प्रशासन के किसी व्यक्ति से इस संदर्भ में चर्चा हुई है.

राजेंद्र सिंह ने कहा कि उनकी ये जमीन बफर जोन में है लेकिन गैरकानूनी नहीं है. अगर सरकार चाहे तो उनसे ये जमीन उचित मुआवजा देकर ले सकती है. विधानसभा उपाध्यक्ष ने शावक के शिकार के पीछे स्थानीय ग्रामीण पर भी संदेह जताया है.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर