Home /News /madhya-pradesh /

MP News: कोरोना काल में बढ़े साइबर अपराध, DGP विवेक जौहरी ने कहा- इससे गांव भी नहीं बचे

MP News: कोरोना काल में बढ़े साइबर अपराध, DGP विवेक जौहरी ने कहा- इससे गांव भी नहीं बचे

मध्य प्रदेश में साइबरअपराध कोरोना काल में अचानक बढ़ गए. डीजीपी ने कहा कि गांव में भी लोग इसका शिकार हुए.

मध्य प्रदेश में साइबरअपराध कोरोना काल में अचानक बढ़ गए. डीजीपी ने कहा कि गांव में भी लोग इसका शिकार हुए.

Madhya Pradesh: डीजीपी ने कहा है कि कोरोना काल में साइबर अपराध बढ़े. इस दौरान सबकुछ बंद था. इसलिए अपराधियों ने खुद को हाईटेक कर लोगों को शिकार बनाया. शहर के साथ-साथ ग्रामीण इलाकों में हजारों लोगों ने अपना पैसा गंवा दिया. अब पुलिस भी इनसे निपटने की तैयारी कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना काल में साइबर अपराध ज्यादा हुए. पुलिस महानिदेशक (DGP) विवेक जौहरी ने कहा कि कोविड काल में साइबर अपराधियों का शिकार होने वालों की संख्या ज्यादा देखी गई. इस दौरान अपराध बढ़े. शहर के साथ-साथ ग्रामीण इलाकों में इस तरह के अपराध घटित हुए. जौहरी ने बात मप्र पुलिस अकादमी में आयोजित 10 दिवसीय ‘साइबर क्राइम इंवेस्टिगेशन एवं इंटेलिजेंस समिट-2021’ के समापन पर कही.

समापन कार्यक्रम के मुख्‍य अतिथि राज्‍यपाल मंगूभाई पटेल थे. इस दौरान राज्‍यपाल ने यूनिवर्सिटी, स्कूल के पाठ्यक्रम में सायबर सुरक्षा जागरूकता को शामिल करने की आवश्‍यकता बताई. उन्होंने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था डिजीटल, कैशलेस की ओर अग्रसर है. ऐसे में सायबर सुरक्षा की मजबूती अनिवार्य है. इंटरनेट का कल्‍याणकारी कार्यों में उपयोग किया जाना चाहिए. सभी राज्‍यों की सहभागिता और अंतर्राष्‍ट्रीय विशेषज्ञों का मार्गदर्शन सायबर सुरक्षा और सायबर अपराध नियंत्रण में सहायक होगा.

3 हजार से अफसरों को मिली ट्रेंनिग

समिट में साइबर अपराध के निराकरण, विवेचना, नियंत्रण के प्रयास किए गए. विशेषज्ञों और सहभागियों ने अपना ज्ञान और तकनीक साझा की. 56 से अधिक राष्‍ट्रीय, अंतर्राष्‍ट्रीय विषय विशेषज्ञों ने मप्र के साथ दूसरे राज्यों के तीन हजार से अधिक अधिकारियों को ट्रेनिंग दी. समिट में ऑनलाइन गेमिंग, गेम्बलिंग, किप्टोकरेंसी, क्रिप्‍टो-ट्रेड अपराधों, वित्तीय धोखाधड़ी, एन्क्रिप्टेड व्हीओआईपी संचार पर अपराध को हल करने, ड्रोन तकनीक इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT), आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस (AI), मशीन लर्निंग (ML) समेत अन्य विषयों पर मंथन हुआ. समिट महिलाओं और बच्चों के खिलाफ होने वाले साइबर अपराध रोकने, पुलिस अधिकारियों की कार्य क्षमता बढ़ाने के उद्देश्य से भी आयोजित की गई.

पुलिस में भर्ती के लिए निकली कई पदों पर वैकेंसी

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश पुलिस ने सब इंस्पेक्टर और कांस्टेबल के 60 पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है. सब इंस्पेक्टर और कांस्टेबल के पदों पर ये भर्ती स्पोर्ट कोटे के तहत की जानी है. ऐसे में भर्ती प्रक्रिया में शामिल होने के लिए योग्य और इच्छुक अभ्यर्थी मध्यप्रदेश पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट recruitment.mppolice.gov.in पर विजिट करके आवेदन कर सकते हैं. भर्ती के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की लास्ट डेट 27 सितंबर 2021 है. बता दें कि कुल 60 पदों पर निकली भर्ती के लिए जारी नोटिफिकेशन के अनुसार सब इंस्पेक्टर के रिक्त पदों की संख्या 10 और कांस्टेबल के रिक्त पदों की संख्या 50 है.

अभ्यर्थियों के लिए ये सलाह

अभ्यर्थियों को सलाह दी जाती है कि आवेदन करने से पहले ऑफिशियल नोटीफिकेशन जरूर पढ़ें. सब इंस्पेक्टर के पद पर आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी के पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन की डिग्री अनिवार्य रूप से होना चाहिए. वहीं कांस्टेबल भर्ती के लिए 12वीं पास अभ्यर्थी भी आवेदन कर सकते हैं. जबकि अनुसूचित जाति के अभ्यर्थियों को कांस्टेबल के पद में आवेदन के लिए शैक्षणिक योग्यता में छूट दी गई है. कांस्टेबल के लिए अनुसूचित जाति के 8वीं पास छात्र भी आवेदन कर सकते हैं.

Tags: Bhopal news, Cyber Crime News, Mp news, MP Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर