लाइव टीवी

सायबर पुलिस बोली- corona virus और सोशल मीडिया पर आ रही इन links से भी बचेंं...
Bhopal News in Hindi

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 26, 2020, 3:10 PM IST
सायबर पुलिस बोली- corona virus और सोशल मीडिया पर आ रही इन links से भी बचेंं...
सायबर पुलिस की अपील-सोशल मीडिया पर आ रहे ये लिंक Click ना करें...

साइबर सेल के अधिकारियों का कहना है फ्री रिचार्ज से संबंधित ऑफर की जानकारी के लिए वह संबंधित वेबसाइट या फिर उस टेलिकॉम कंपनी के संबंधित अधिकारी से बातचीत कर लें और इस तरीके के सोशल मीडिया पर आने वाले लिंक को क्लिक न करें.

  • Share this:
भोपाल.ठगों ने कोरोना संक्रमण (corona virus) का मौका भी नहीं छोड़ा. लॉक डाउन का फायदा उठा कर ठग लोगों को फोन कर उन्हें फोन के फ्री रिचार्ज और क्रेडिट कार्ड के नाम पर ठगने की फिराक में हैं. किसी के पास फोन आ रहे हैं तो कई लोगों से लिंक शेयर किए जा रहे हैं. पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वो अनजान लोगों के ऐसे किसी लुभावने ऑफर के चक्कर में ना फंसें.

साइबर सेल के एडिशनल एसपी संदेश जैन ने बताया कि कोरोना संक्रमण के संकट की इस घड़ी में किसी भी प्रकार के फ्री रिचार्ज या अन्य लुभावने ऑफर के लालच में ना फंसे.इस तरह के आने वाले किसी भी लुभावने ऑफर के लिंक को टच बिल्कुल न करें.उन्होंने बताया कि ऐसा करने पर आप ठगी के शिकार हो सकतें हैं.ऐसे मैसेज को आगे फॉरवर्ड करने से बचें और औरों को भी जागरुक करें.

फ्री रिचार्ज का हवाला
कुछ दिन से सोशल मीडिया में मोबाइल फोन बैलेंस को फ्री में 400 रुपए से अधिक का रिचार्ज करने का दावा किया जा रहा है. इस रिचार्ज को करने के लिए मैसेज को 4 स्टेप में पांच अलग-अलग लोगों को भेजने की सलाह दी जाती है. यह मैसेज भेजने के बाद भी लोगों का बैलेंस रिचार्ज नहीं हो पा रहा है. इस तरीके की शिकायत साइबर सेल में पहुंची है. हालांकि जब साइबर सेल ने जांच की तो पता चला कि किसी भी टेलिकॉम कंपनी ने किसी भी तरह के ऑफर इस संबंध में नहीं दिए हैं. साइबर सेल के अधिकारियों का कहना है फ्री रिचार्ज से संबंधित ऑफर की जानकारी के लिए वह संबंधित वेबसाइट या फिर उस टेलिकॉम कंपनी के संबंधित अधिकारी से बातचीत कर लें और इस तरीके के सोशल मीडिया पर आने वाले लिंक को क्लिक न करें.



ग्रीन कार्ड का लालच
व्यापारियों के पास भी लगातार इस तरीके के फोन आ रहे हैं कि वह ग्रीन कार्ड का इस्तेमाल कर लें और स्क्रीन कार्ड से अपने अकाउंट को लिंक करा लें. लोगों को लालच दिया जा रहा है कि यदि वे ऐसा करते हैं तो उनको केस की दिक्कत नहीं होगी और उनके सामान की डिलीवरी भी जल्द हो जाएगी.

ये है हकीकत
सच ये है कि ऐसे किसी तरीके के कार्ड किसी भी कंपनी ने जारी नहीं किए हैं. ठग ये फोन कर रहे हैं और लोगों को ठगने की कोशिश कर रहे हैं. साइबर पुलिस अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि वो ऐसे किसी भी लुभावने ऑफस से बचें. किसी भी अनजान शख्स के फोन, मैसेज या लिंक पर भरोसा ना करें.

ये भी पढ़ें-

PHOTOS : CM की बैठक में नज़र आया सोशल डिस्टेंस, जानिए बाकी शहरों का हाल

देश का सबसे स्वच्छ शहर इंदौर, MP में यहीं मिले कोरोना के ज्यादा मरीज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 26, 2020, 2:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर