‘ताऊ ते’ का असर, MP के 23 जिलों में बारिश, मंडला-नरसिंहपुर में पारा पहुंचा 37.5 डिग्री, भोपाल में टूटा रिकॉर्ड

मध्य प्रदेश में तूफान टाऊते का जबरदस्त असर देखने को मिला.(File pic)

मध्य प्रदेश में तूफान टाऊते का जबरदस्त असर देखने को मिला.(File pic)

MP Weather Alert: मध्य प्रदेश के कई जिलों में तूफान ‘ताऊ ते’ का असर दिखाई दिया. प्रदेश के 23 जिलों में बारिश हुई. मंडला और नरसिंहपुर का तापमान 37.5 डिग्री पहुंच गया.

  • Last Updated: May 20, 2021, 12:30 PM IST
  • Share this:

भोपाल. तूफान ‘ताऊ ते का मध्य प्रदेश पर जबरदस्त असर पड़ा है. यहां एक ओर जहां 23 जिलों में बारिश (Rain) हुई है, वहीं भोपाल में मौसम ने पिछले 9 सालों का रिकॉर्ड तोड़ा है. 9 साल के बाद मई महीने में दिन का तापमान सबसे कम रिकॉर्ड किया गया. सबसे ज्यादा तापमान मंडला और नरसिंहपुर में दर्ज किया गया.

मौसम केन्द्र के मुताबिक, भोपाल में बुधवार को दिन का तापमान 35.2 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. ये सामान्य से 6 डिग्री कम रहा. इस तापमान ने पिछले 9 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया. विभाग का कहना है कि 2012 में 3 मई को दिन का तापमान 35.3 डिग्री रिकॉर्ड हुआ था. बता दें, रविवार को 36 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली थीं, जिसने तापमान पर सीधा-सीधा असर डाला. इस वजह से सुबह से दोपहर तक 3 घंटे में तापमान सिर्फ 1.8 डिग्री ही बढ़ सका.

प्रदेश के इन जिलों में इतनी हुई बारिश

मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पिछले 24 घंटों सीधी में 53 मिमी, खजुराहो में 43 मिमी, सतना में 27.8 मिमी, रीवा में 24.8 मिमी, उमरिया में 25.5 मिमी, दमोह में 22 मिमी, छिंदवाड़ा में 17.2 मिमी, होशंगाबाद में 12.8 मिमी, मलाजखंड में 7.2 मिमी, ग्वालियर में 3.4 मिमी, सागर में 1.0 मिमी, रायसेन में 0.8 मिमी, नौगांव में 2.0 मिमी, गुना में 0.6, जबलपुर में 9.6 मिमी, मंडला में 6.0 मिमी, भोपाल में 0.1 मिमी बारिश दर्ज की गई.
इन जिलों में इतना रहा तापमान

मौसम विभाग के मुताबिक, मंडला-नरसिंहपुर में तापमान 37.5 डिग्री रिकॉर्ड हुआ. इंदौर में 35.4 डिग्री, खंडवा-खरगोन में 35.4 डिग्री, रायसेन-राजगढ़-उज्जैन-रतलाम में 35 डिग्री, भोपाल में 35.2 डिग्री, ग्वालियर में 33.8 डिग्री, जबलपुर में 34.1 डिग्री, खजुराहो में 34 डिग्री, उमरिया में 34.4 डिग्री, सागर में 32.7 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया.

एक और तूफान ‘यास’ की आशंका



पश्चिमी तट पर गंभीर चक्रवाती तूफान ‘ताऊ ते’ के आने के बाद एक अन्य चक्रवात ‘यास’ (Cyclone Yaas) के 26-27 मई को पूर्वी तट पर पहुंचने का अनुमान है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी. विभाग ने बताया कि उत्तर अंडमान सागर और बंगाल की पूर्वी मध्य खाड़ी में 22 मई को कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है, जो इसके बाद 72 घंटों में चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है. विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने बताया कि यह उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ सकता है और 26 मई की शाम तक पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है. उसने बताया कि पश्चिम बंगाल, ओडिशा, असम और मेघालय में 25 मई से हल्की से मध्यम स्तर की बारिश हो सकती है. विभाग ने बताया कि इसके बाद बारिश तेज होगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज