दमोह उपचुनाव के साइड इफेक्‍ट, द‍िग्‍व‍िजय समेत BJP-कांग्रेस के 100 नेता कोरोना संक्रम‍ित

मध्‍य प्रदेश के दमोह विधानसभा सीट पर कल वोट‍िंग से पहले कांग्रेस और बीजेपी के कई नेता कोरोना पॉज‍िट‍िव

मध्‍य प्रदेश के दमोह विधानसभा सीट पर कल वोट‍िंग से पहले कांग्रेस और बीजेपी के कई नेता कोरोना पॉज‍िट‍िव

Madhya Pradesh News: मध्‍य प्रदेश के दमोह उपचुनाव में प्रचार करने वाले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के अलावा पार्टी के कई बड़े नेता भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं. वहीं बीजेपी भी इससे बची हुई नहीं है और उसके के प्रदेश के 100 से ज्यादा नेता कोव‍िड पॉज‍िटि‍व हो गए हैं.

  • Share this:
भोपाल. मध्‍य प्रदेश के दमोह विधानसभा सीट पर 17 अप्रैल को होने वाले उपचुनाव का प्रचार भले ही थम गया हो, लेकिन उपचुनाव के साइड इफेक्ट अब सामने आने लगे हैं. दमोह उपचुनाव में पार्टी की जीत के लिए दमखम लगाने वाले नेता कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह दमोह उपचुनाव के कांग्रेस प्रभारी बृजेंद्र सिंह राठौर समेत कई बड़े नेता कोरोना की चपेट में आ गए हैं. सिर्फ ऐसा नहीं है कि कांग्रेस के नेता ही कोरोना संक्रमित हो, बीजेपी के नेता भी बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं.

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी है. दिग्विजय सिंह की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. दिग्विजय सिंह दमोह उपचुनाव में प्रचार करने के लिए गए थे लेकिन कोरोना के संक्रमण को देखते हुए दिग्विजय सिंह ने अपने प्रचार को बीच में रोककर दिल्ली के लिए रवाना हो गए थे. दिग्विजय सिंह की अब कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई आई है. दिग्विजय सिंह ने अब खुद को दिल्ली निवास पर होम आइसोलेशन कर लिया है.

Youtube Video


दिग्विजय सिंह के अलावा कांग्रेस के कई बड़े नेता भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं. दमोह उपचुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन, दमोह उपचुनाव में कांग्रेस के प्रभारी बृजेंद्र सिंह राठौर, कांग्रेस के जिला अध्यक्ष मनु मिश्रा समेत कई कांग्रेसी नेता कोरोना संक्रमित हो गए हैं. सिर्फ ऐसा नहीं है कि कांग्रेस के नेता ही कोरोना संक्रमित आए हो, दमोह चुनाव में दमखम लगाने वाले नेता भी अब कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं.
जतारा से विधायक और बीजेपी के प्रदेश महामंत्री हरिशंकर खटीक, निवाड़ी जिला अध्यक्ष अखिलेश अयाची, पूर्व विधायक के के श्रीवास्तव, टीकमगढ़ बीजेपी के महामंत्री अभिषेक खरे समेत 100 से ज्यादा नेता संक्रमित हो गए हैं.

वही दमोह चुनाव में निर्वाचन आयोग का नारा भी महंगा साबित हुआ है. दमोह उपचुनाव के दौरान कोरोना के मत डरो, मतदान करो और इसी स्लोगन के साइड इफेक्ट चुनाव से पहले कोरोना संक्रमण के जरिए सामने आने लगे हैं.

दरअसल 17 अप्रैल को होने वाले दमोह उपचुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं ने जोर लगाने का काम किया था. आखिरी दौर के चुनाव प्रचार में केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा से लेकर बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने जोर लगाया, जबकि कांग्रेस की तरफ से आखिरी दौर में कमलनाथ ने रोड शो के जरिए पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश की, लेकिन शन‍िवार को होने वाले उपचुनाव से पहले अब नेताओं की आ रही कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट के बाद हड़कंप के हालात हैं. अब सवाल इस बात को लेकर उठ रहा है कि जब पूरे प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते कोरोना कर्फ्यू लागू किया गया तो फिर दमोह की जनता को संक्रमित होने के लिए आखिर क्यों छोड़ा गया?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज