अपना शहर चुनें

States

किसान आंदोलन : सरकार अध्यादेश लाकर कृषि कानून वापस ले-दिग्विजय सिंह

दिग्विजय सिंह ने कहा-अध्यादेश लाकर अगले आदेश तक कृषि कानून स्थगित करें (फाइल फोटो)
दिग्विजय सिंह ने कहा-अध्यादेश लाकर अगले आदेश तक कृषि कानून स्थगित करें (फाइल फोटो)

दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) ने कहा सरकार पर किसान कैसे भरोसा करें. कौन सा वादा पूरा किया है. कृषि कानून स्थगित करने के लिए अध्यादेश लाएं और फिर चर्चा करने JPC का गठन करें.

  • Share this:
दिल्ली.मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) ने भाजपा को चेताते हुए कहा कि PM नरेंद्र मोदी की हठधर्मिता पार्टी को महंगी पड़ेगी. किसान सिर्फ तीन कृषि कानून (Agriculture law) वापस लेने की मांग कर रहे हैं.साथ ही चर्चा के बाद कानून बनाने की बात कह रहे हैं. इसमें कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा केंद्र सरकार कानूनों को स्थगित करने का प्रस्ताव रख रही है. इसके लिए भी तो अध्यादेश लाना पड़ेगा. अध्यादेश लाकर अगले आदेश तक कृषि कानून स्थगित करें, बात खत्म हो जाएगी.

दिग्विजय सिंह ने कहा सरकार पर किसान कैसे भरोसा करें. कौन सा वादा पूरा किया है. कृषि कानून स्थगित करने के लिए अध्यादेश लाएं और फिर चर्चा करने JPC का गठन करें.

ज़िद छोड़े सरकार
पूर्व मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा अभी तक तो इंटरनेट कश्मीर में ही बंद किया जाता था, अब यह घाटी से नीचे मैदान में आ गया है. हरियाणा के कई जिलों में इंटरनेट बंद कर दिया गया है. चीन, पाकिस्तान की सीमा पर इतनी जबरदस्त नाकेबंदी नहीं है जितनी दिल्ली के बॉर्डर पर की गई है. राहुल गांधी सही कह रहे हैं कि ज़रूरत पुल बनाने की है दीवार खड़ी करने की नहीं . पीएम को हठधर्मिता छोड़कर तीनों कानून वापस लेने के लिए तत्काल अध्यादेश लेकर आना चाहिए.




नरोत्तम को घर संभालने की सलाह
दिग्विजय सिंह ने कहा देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जा रहा है. बॉर्डर को सील करके कीलें गाड़ी जा रही हैं. यह सरकार के भयभीत होने के ही लक्षण हैं.मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पर पलटवार करते हुए उन्हें सलाह दी कि अपना घर पहले संभालें, दतिया में कैसे उन्होंने लोगों पर जुल्म ढा रखा है. अगला आंदोलन तो दतिया में होगा.

प्रियंका के रामपुर दौरे का समर्थन
कांग्रेस महासचिव प्रियंकागांधी के रामपुर दौरे पर उन्होंने कहा कांग्रेस की सहानभूति दिल्ली पुलिस के घायल कर्मचारियों के साथ भी है. प्रश्न यह कि अब नारा है- भाजपा जब जब डरती है पुलिस को आगे करती है. यही हालात है कि इनके पास कोई हथियार नहीं बचता तो पुलिस को आगे कर देते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज