• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • 170 किमी की स्पीड, थर्मस से चाय निकालकर अधिकारियों से बोले गडकरी, 'अगर एक भी बूंद गिरी तो खैर नहीं'

170 किमी की स्पीड, थर्मस से चाय निकालकर अधिकारियों से बोले गडकरी, 'अगर एक भी बूंद गिरी तो खैर नहीं'

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे का अनोखे तरीके से स्पीड टेस्ट लिया. (File

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे का अनोखे तरीके से स्पीड टेस्ट लिया. (File

Delhi-Mumbai Express-Way Speed Test: केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी की कार दो दिन पहले दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे 170 किमी की स्पीड से दौड़ी थी. गडकरी ने स्पीड टेस्ट के दौरान अपने थर्मस से चाय पी. इतना ही नही, उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि चाय की एक भी बूंद नहीं गिरनी चाहिए. पढ़ें ये दिलचस्प किस्सा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    भोपाल. दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे (Delhi-Mumbai Express Way) पर दो दिन पहले एक कार बड़ी तेज रफ्तार से चली जा रही थी. यह कार खास थी. इसमें केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) अपने पूरे अमले के साथ बैठे हुए थे. जिस एक्सप्रेस-वे पर यह कार 170 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ रही थी, उस सड़क का ‘स्पीड टेस्ट’ लिया जा रहा था. इसी दौरान बड़ा ही रोचक वाकया हुआ. अपने बेबाक बयानों और अफसरों से तेवरदार अंदाज में काम कराने के लिए मशहूर केंद्रीय मंत्री गडकरी कार में बैठे-बैठे ही अचानक थर्मस से चाय निकालकर पीने लगे. चाय पीते हुए गडकरी ने अफसरों से कहा, ‘अगर एक बूंद चाय भी नीचे गिरी तो आप लोगों की खैर नहीं.’

    केंद्रीय मंत्री और उनके अफसरों के बीच कार में हुई इस बातचीत के बारे में किसी बाहरी को खबर नहीं लगती, लेकिन खुद नितिन गडकरी ने ही यह बात जाहिर कर दी.  उन्होंने कहा कि हाईवे को इतना स्मूथ बनाया गया है कि 120 किलोमीटर से ज्यादा की रफ्तार पर वाहन चल सकेंगे.

    गडकरी ने कहा कि कि प्रदेश को देश की लॉजिस्टिक कैपिटल बनाने में केंद्र सरकार, राज्य सरकार का हर संभव सहयोग करेगी, यह मेरा वादा है.

    इंदौर-मुंबई की दूरी रह जाएगी 4 घंटे

    बता दें, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे बनने से मुंबई की मिनी मुंबई इंदौर से दूरी महज 4 घंटे की रह जाएगी. जबकि अभी इंदौर से मुम्बई पहुंचने में 11 घंटे से ज्यादा का समय लगता है. ऐसे में ये एक्सप्रेस वे एमपी के आर्थिक विकास की एक नई इबारत लिखेगा. 1380 किलोमीटर लम्बा 8 लेन वाला ये एक्सप्रेस वे मार्च 2023 में बनकर तैयार हो जाएगा.

    ये भी पढ़ें: 22 साल के लड़के पर था 15 साल की लड़की से रेप का आरोप, HC ने किया बरी, जानिये वजह

    इस हाइवे के बनने से मुंबई और इंदौर के बीच 11 घंटे का समय घटकर 4 घंटे रह जाएगा. इससे दोनों आर्थिक राजधानियों के बीच व्यापार और आसान हो जाएगा. इससे मालवा के लोगों को रेडीमेड कपड़े, सराफा, हैंडलूम, हैंडीक्राफ्ट, फल-सब्जियों, अनाज का  एक बहुत बड़ा बाजार मिल जाएगा.

    ये भी पढ़ें:  PHOTOS: ज्योतिरादित्य सिंधिया से लेकर अमरिंदर सिंह तक, आपस में रिश्तेदार हैं ये राजनेता

    कई मायनों में मिलेगी सहूलियत

    इस एक्सप्रेस-वे के बनने से ट्रैफिक जाम खत्म होगा. साथ ही, लॉजिस्टिक्स-ट्रांसपोर्टेशन लागत में भी कमी आएगी. इंदौर से मेडिकल हेल्प के लिए कई बार मरीजों को रेफर किया जाता है, अब ये और आसान हो जाएगा. 1350 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेस वे का अकेले मध्य प्रदेश में 8500 करोड़ की लागत से 8 लेन मार्ग बन रहा है. जरूरत पड़ने पर दूसरे फेज में इसे 12 लेन का बनाने का प्रस्ताव है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज