Home /News /madhya-pradesh /

Delhi-Mumbai Expressway से ऐसे जुड़ेंगे इंदौर-देवास-उज्जैन, बन रहा है नया फोर लेन, जानिए सबकुछ

Delhi-Mumbai Expressway से ऐसे जुड़ेंगे इंदौर-देवास-उज्जैन, बन रहा है नया फोर लेन, जानिए सबकुछ

Jaipur news : सिग्नल-फ्री रूट को मार्च-22 तक पूरा करने के निर्देश

Jaipur news : सिग्नल-फ्री रूट को मार्च-22 तक पूरा करने के निर्देश

Delhi-Mumbai Expressway in Madhya Pradesh: देश का सबसे लंबा दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे (Delhi-Mumbai Expressway Route) मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र के तीन जिलों मंदौसौर (102 किमी), रतलाम (90 किमी) और झाबुआ (52 किमी) से गुजर रहा है. इन तीन जिलों में एक्सप्रेस-वे की लंबाई कुल 245 किमी है जिसमें से 106 किमी प्रोजेक्ट बनकर तैयार है. नवंबर 2022 तक शेष प्रोजेक्ट पूरा होने की उम्मीद है. इस एक्सप्रेस-वे से इंदौर-देवास-उज्जैन को भी राऊ-देवास बायपास के जरिये गरोठ में जोड़ा जा रहा है. इंदौर से गरोठ तक कुल 173 किलोमीटर फोरलेन सड़क बनाई जा रही है. इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 1890 करोड़ रुपए बताई जा रही है. मंदसौर जिले के गरोठ में ही दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे का जंक्शन बनाया जा रहा है. गरोठ और जावरा में लॉजिस्टिक हब बनाया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

इंदौर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मालवा (Malwa) क्षेत्र से देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस-वे दिल्ली-मुंबई 8 लेन एक्सप्रेस-वे (Delhi Mumbai Expressway Latest Update) गुजर रहा है. यह एक्सप्रेस-वे प्रदेश के तीन जिलों मंदौसौर (102 किमी) , रतलाम (90 किमी) और झाबुआ (52 किमी) से गुजरेगा. प्रदेश के इन तीन जिलों में एक्सप्रेस-वे की लंबाई कुल 245 किमी है. 245 किमी में 106 किमी रोड बनकर तैयार है जबकि बाकी नवंबर 2022 तक पूरा होगा. इस एक्सप्रेस-वे की कुल लंबाई 1,350 किमी है. इस प्रोजेक्ट के पूरा हो जाने पर दिल्ली-मुंबई का सफर 12 घंटे में तय हो सकेगा. मध्य प्रदेश में 214 पुल, 511 पुलियां, 100 छोटे-बड़े अंडरपास और 7 टोल बूथ बनाए जा रहे हैं.

मालवा क्षेत्र की तस्वीर बदलने वाले और पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट से इंदौर, उज्जैन को भी जोड़ा जा रहा है. देवास, उज्जैन और गरोठ के बीच नया फोर लेन रोड बनाकर इंदौर को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस हाईवे से जोड़ा जा रहा है.

इंदौर से गरोठ तक बनेगी 173 किलोमीटर फोरलेन सड़क

इंदौर को राऊ-देवास बायपास के जरिए गरोठ में दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर (डीएमआईसी) से जोड़ा जाएगा. इंदौर से गरोठ तक कुल 173 किलोमीटर फोरलेन सड़क बनाई जा रही है. इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 1890 करोड़ रुपए बताई जा रही है. मंदसौर जिले के गरोठ में ही दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे का जंक्शन बनाया जा रहा है. गरोठ और जावरा में लॉजिस्टिक हब बनाया जाएगा. बसई के पास की जमीन पर इंडस्ट्री लगाई जाएंगी. यह एक्सप्रेस मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र में प्रगति के रास्ते खोलेगा.

दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे वडोदरा से मध्य प्रदेश के मेघनगर से लगी अनास नदी के पास से प्रदेश में एंट्री लेगा. फिर थांदला, सैलाना, खेजड़िया, शामगढ़, गरोठ, भवानीमंडी, कोटा होकर दिल्ली पहुंचेगा. दिल्ली से लेकर मुंबई तक पहले फेज में 8 लेन हाईवे का निर्माण जारी है. भविष्य में ट्रैफिक बढ़ने पर दूसरे फेज में इसे 12 लेन में बदला जाएगा. इस हाईस्पीड कॉरिडोर के आसपास लॉजिस्टिक पार्क, इंडस्ट्रियल यूनिट, एग्रिकल्चरल प्रोडक्शन सेंटर और फूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाई जानी है.

Delhi Mumbai Expressway, Delhi Mumbai Expressway Latest update, Delhi Mumbai Expressway route, Delhi Mumbai Expressway madhya pradesh, Indore expressway, Delhi Mumbai Expressway status, Delhi Mumbai Expressway photos, Delhi Mumbai Expressway route in madhya pradesh, mp news today, bhopal news, दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे, दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे मध्य प्रदेश, दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे मेप, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे लेटेस्ट न्यूज़,

इंदौर को राऊ-देवास बायपास के जरिए गरोठ में दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर (डीएमआईसी) से जोड़ा जाएगा.

ये भी पढ़ें: MP के इस गांव में चाय बनाना हुआ मुश्किल, पानी मिलाओ तो नहीं पकती दाल, लोग परेशान

150 KM प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी गाड़ी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सितंबर 2021 में रतलाम में जब इस एक्सप्रेस का निरीक्षण किया था तो उन्होंने कहा था रतलाम, दिल्ली-मुंबई रूट का सड़क एवं रेल परिवहन का अहम केंद्र है. इसे लॉजिस्टिक हब के रूप में विकसित किया जाएगा. उन्होंने 150 किमी/घंटा की स्पीड से इस हाईवे पर कार भी ड्राइव की थी.

दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर एक नजर
प्रोजेक्ट की कुल लागत:
98 हजार करोड़
कुल लंबाई: 1,380 किमी

-पहले फेज में दिल्ली-जयपुर (दौसा)-लासोट और वडोदरा-अंकलेश्वर तक का हिस्सा मार्च 2022 बनकर तैयार हो जाएगा और यह आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा. पूरा प्रोजेक्ट मार्च 2023 तक पूरा होने की उम्मीद है. मार्च 2019 में यह प्रोजेक्ट बनना शुरू हुआ था.

– यह एक्सप्रेसवे जयपुर, किशनगढ़, अजमेर, कोटा, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, भोपाल, उज्जैन, इंदौर, अहमदाबाद, वडोदरा और सूरत जैसे इकोनोमिक हब के बीच कनेक्टिविटी बढ़ाएगा.

Tags: Bharatmala programme, Bhopal news, Delhi-Mumbai Expressway, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर