होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /MP: नवरात्र में खुले रहेंगे देवी मंदिर, रावण दहन भी होगा, शिवराज सरकार ने जारी की गाइडलाइन

MP: नवरात्र में खुले रहेंगे देवी मंदिर, रावण दहन भी होगा, शिवराज सरकार ने जारी की गाइडलाइन

मुख्यमंत्री ने गत बुधवार को मध्य प्रदेश में गौ वंश की सुरक्षा एवं संवर्धन के लिये एक अलग कैबिनेट स्थापित करने की घोषणा की थी. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री ने गत बुधवार को मध्य प्रदेश में गौ वंश की सुरक्षा एवं संवर्धन के लिये एक अलग कैबिनेट स्थापित करने की घोषणा की थी. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश सरकार के दिशा निर्देशों के मुताबिक, एक जगह पर 200 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी होगी. मास्क लगान ...अधिक पढ़ें

भोपाल. कोरोना के बावजूद मध्य प्रदेश में नवरात्र के दौरान प्रदेश के सभी देवी मंदिर खुले रहेंगे. श्रद्धालु आसानी से माता के दर्शन कर सकेंगे. हालांकि मंदिरों में एक साथ 200 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर रोक रहेगी. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह शिवराज सिंह चौहान(Shivraj Singh Chauhan)  ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि सम्भव हो तो घर पर ही माता की पूजा-अर्चना करें तथा मंदिरों में भीड़ एकत्रित न हो. साथ ही सीएम शिवराज ने जनता से कहा है कि वह अनिवार्य रूप से मास्क लगाने, एक-दूसरे के बीच पर्याप्त दूरी बनाए रखने, हाथ सैनेटाइज करने आदि सभी सावधानियों का पालन करें. थोड़ी सी असावधानी कोरोना संक्रमण का कारण बन सकती है.

200 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मंदिर प्रांगण अथवा हॉल कितना भी बड़ा क्यों न हो, एक समय में वहां 200 से अधिक व्यक्ति एकत्रित नहीं होने चाहिए. छोटे स्थानों पर उतने ही व्यक्ति एक बार में एकत्रित हों जिससे एक-दूसरे के बीच पर्याप्त दूरी बनी रहे. मंदिरों में दर्शन के लिए लगने वाली लाइनों में एक-दूसरे श्रद्धालु के बीच पर्याप्त अंतर हो, यह मंदिर प्रबंध समितियां तथा व्यवस्थापक सुनिश्चित करें.

दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित की जा सकेंगी

नवरात्र पर दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित की जा सकेंगी तथा स्थापित की जाने वाली प्रतिमाओं पर 6 फीट ऊंचाई का प्रतिबंध नहीं है. लेकिन प्रतिमाएं स्थापित किए जाने तथा झांकियां बनाए जाने में इस बात का पूरा ध्यान रखा जाए कि उनके दर्शन श्रद्धालुओं को आसानी से बिना रूके हो जाएं, जिससे कहीं भी भीड़ एकत्रित न हो. गुफा या इस प्रकार की झांकी न बनाई जाए, जिसके दर्शन में श्रद्धालु को सकरे रास्ते से अथवा झुककर जाना पड़े, अधिक समय लगे अथवा एक स्थान पर रूकना पड़े.

ये भी पढ़ें: झारखंड उपचुनाव: दुमका और बेरमो सीट पर साख की लड़ाई, दो खास चेहरे आजमा रहे हैं किस्मत

नहीं होंगे चल समारोह

नवरात्र पर किसी भी प्रकार के चल समारोह नहीं होंगे. प्रतिमाओं के विसर्जन के लिए आयोजन समिति के अधिकतम 10 व्यक्ति निर्धारित विसर्जन स्थलों पर जा सकेंगे. विसर्जन में भी पूरी सावधानियों एवं दिशा-निर्देशों का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा. दशहरे के अवसर पर रावण दहन किया जा सकेगा तथा रामलीलाएं भी हो सकेंगी, लेकिन कोरोना संक्रमण के मद्देनजर एक-दूसरे के बीच पर्याप्त दूरी रखने, मास्क लगाने आदि की सावधानियां अनिवार्य रूप से बरतनी होंगी.

Tags: Bhopal news, CM Shivraj Singh Chauhan, Corona Cases, COVID 19, Madhya pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें