सरकार के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे पूर्व डीजी पुरुषोत्तम शर्मा, कहा- वर्षों से झेल रहा हूं पत्नी की प्रताड़ना

डीजी पुरुषोत्तम शर्मा पर बड़ी कार्रवाई . (फाइल फोटो).
डीजी पुरुषोत्तम शर्मा पर बड़ी कार्रवाई . (फाइल फोटो).

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा (Purushottam Sharma) को सस्‍पेंड कर दिया गया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में स्पेशल डीजी के पद से हटाए गए पुरुषोत्तम शर्मा (Purushottam Sharma) को सस्पेंड कर दिया गया है. इस कार्रवाई के खिलाफ उन्‍होंने हाईकोर्ट जाने की बात कही है. उन्होंने सरकार को भेजे स्पष्टीकरण के नोटिस में इस मामले को महिला नहीं, बल्कि पुरुष प्रताड़ना का केस बताया है. पुरुषोत्तम शर्मा ने गृह विभाग को भेजे अपने जवाब में बताया कि यह मामला उनको प्रताड़ित करने वाला है. यह मामला घरेलू हिंसा का नहीं है और न ही महिला को प्रताड़ित करने का है.

पुरुषोत्तम शर्मा का कहना है कि यह मामला पुरुष को प्रताड़ना देने वाला है. साथ में उन्होंने अपने जवाब में बताया कि वीडियो को पूरे प्लानिंग के तहत बनाया गया है. मैंने किसी तरीके की मारपीट नहीं की झूमा-झटकी हुई है. मैं सालों से अपनी पत्नी की प्रताड़ना को झेल रहा हूं. परिवार न टूटे इसलिए कोई बड़ा कदम नहीं उठाया. अपने जवाब में अपना बचाव पुरुषोत्तम शर्मा ने किया है. उन्होंने लोक अभियोजन के पद से हटाए जाने के फैसले को स्वीकार किया था, लेकिन उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई से अब वह नाराज हैं और हाईकोर्ट जाने की बात कर रहे हैं.

पहली बार सीनियर आईपीएस को किया सस्पेंड
मध्य प्रदेश के इतिहास में पहली बार किसी सीनियर आईपीएस अफसर पर सस्पेंड किया गया है. पत्नी के साथ मारपीट का वीडियो वायरल होने पर सरकार ने सबसे पहले स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा को डायरेक्टर लोक अभियोजन के पद से हटाया. इसके बाद उनसे स्पष्टीकरण मांगा और इस स्पष्टीकरण पर असंतोष जताते हुए राज्य शासन ने उन्हें सस्पेंड करने के आदेश जारी कर दिया.




शर्मा के जवाब को नहीं पाया संतोषजनक
गृह विभाग ने आदेश जारी करते हुए स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा को सस्पेंड कर दिया है. गृह विभाग के आदेश में लिखा है कि पुरुषोत्तम शर्मा को 27 सितंबर को सोशल मीडिया में वायरल वीडियो के संबंध में 28 सितंबर को स्पष्टीकरण नोटिस जारी किया गया था. उनका जवाब असंतोषजनक पाया गया है. ऐसे में उन्‍हें तत्‍काल प्रभाव से निलंबित किया गया है. निलंबन काल में पुरुषोत्तम शर्मा पुलिस मुख्यालय में रहेंगे.

ब्लैकमेलिंग का आरोप
पुरुषोत्तम शर्मा ने न्यूज़ 18 को बताया कि उनकी पत्नी उन्हें ब्लैकमेल कर रही है. उनसे ऐसी डिमांड की गई है, जिसे वे जीवन भर पूरा नहीं कर पाएंगे. सूत्रों ने बताया कि पुरुषोत्तम शर्मा की तरफ से यह आरोप लगाए जा रहे हैं कि उनकी पत्नी ने यह सब कुछ उन्हें ब्लैकमेल करने के लिए किया था. प्लानिंग के तहत उनका वीडियो बनाया गया और उसे वायरल किया गया. अब उन्हें ब्लैकमेल की किया जा रहा है. उनकी डिमांड पूरी नहीं करने पर एफआईआर दर्ज करने की धमकी दी जा रही है. आरोप है कि पत्नी की तरफ से एक करोड़ रुपए, शर्मा की आधी सैलरी और आधी पेंशन के साथ कई जगहों पर घर की डिमांड की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज