5 करोड़ पौधे लगाने के नाम पर हुआ भ्रष्टाचार! कमलनाथ सरकार उधेड़ेगी पुरानी परतें...

पूर्व बीजेपी सरकार में हुए घोटालों और भ्रष्टाचार की परतें खोलने में लगी कांग्रेस सरकार ने अब प्लांटेशन के लिए करोड़ों के भ्रष्टाचार की जांच के निर्देश जारी किए हैं .

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 30, 2019, 11:54 AM IST
5 करोड़ पौधे लगाने के नाम पर हुआ भ्रष्टाचार!  कमलनाथ सरकार उधेड़ेगी पुरानी परतें...
गड़बड़ियों के खिलाफ एक्शन में कमलनाथ सरकार (फाइल फोटो: कमलनाथ, मुख्यमंत्री)
Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 30, 2019, 11:54 AM IST
पूर्व बीजेपी सरकार में हुए घोटालों और भ्रष्टाचार की परतें खोलने में लगी कांग्रेस सरकार ने अब प्लांटेशन के लिए करोड़ों के भ्रष्टाचार की जांच के निर्देश जारी किए हैं और पंचायत विभाग में हुए घोटालों की जांच के लिए सरकार ने जांच कमेटी गठित करने का फैसला किया है.

घोटालों को खोलने में लगी कांग्रेस सरकार

बीजेपी शासन में हुए घोटालों को खोलने में लगी कांग्रेस सरकार ने अब पंचायत विभाग में हुई गड़बड़ियों की फाइल खोली है. 2017 को वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए पांच करोड़ पौधे लगाने के नाम पर हुए भ्रष्टाचार के गड्ढों की जांच के निर्देश विभाग ने जारी किए है. मौजूदा सरकार के मुताबिक पूर्व सरकार ने लक्ष्य को पूरा करने के लिए मनरेगा की राशि से जेसीबी से गड्ढे कराने का फैसला किया और 545 करोड़ खर्च कर हुए प्लांटेशन में करोड़ों की बर्बादी कर डाली.

घोटालों को खोलने में लगी कमलनाथ सरकार, प्लांटेशन के नाम पर गड्ढों में करोड़ों का खेल (सांकेतिक तस्वीर)
घोटालों को खोलने में लगी कमलनाथ सरकार, प्लांटेशन के नाम पर गड्ढों में करोड़ों का खेल (सांकेतिक तस्वीर)


इंडो चाइना मीट दौरे पर भी उठाए सवाल

विभाग ने तत्कालीन विकास आय़ुक्त के उस फैसले की भी जांच के निर्देश दिए है, जिसमें राहत आयुक्त राधेश्याम जुलानिया ने प्लांटेशन के लिए होने वाली खरीदी के बिल भी रखने को जरूरी नहीं बताया था. विभाग ने इस पूरे मामले के सोशल आडिट के जरिए गड़बड़ी की जांच के निर्देश दिए है.पंचायत विभाग ने गरीबों के पैसे पर पूर्व सरकार के इंडो चाइना मीट कराने और इसके नाम पर मंत्री और अफसरों के विदेश दौरे करने के मामले की भी जांच के निर्देश दिए है.

घोटालों की जांच की कवायद में जुटी कमलनाथ सरकार
Loading...

विभागीय मंत्री कमलेश्वर पटेल के मुताबिक सरकार ने सिर्फ चाइना के प्रतिनिधियों को मौज कराने के लिए आजीविका मिशन के करोड़ों रुपए खर्च करने का कारनामा कर दिखाया है, जिसकी जांच होगी. वहीं एक के बाद खुल रही गड़बड़ियों की फाइलों पर बीजेपी ने पलटवार बोला है. बीजेपी के मुताबिक सरकार सिर्फ डराने का काम कर रही है, जबकि सबकुछ नियमों के मुताबिक हुआ है. बहरहाल व्यापम घोटाला, ई-टेंडरिंग घोटाला, आवास योजना घोटाला, पेंशन घोटाला के बाद सरकार अब पंचायत विभाग में हुए घोटालों की जांच की कवायद में जुट गई है.

यह भी पढ़ें- ई-टेंडरिंग घोटाला: जीतू पटवारी ने कसा नरोत्तम मिश्रा पर तंज, कहा- चोर की दाढ़ी में तिनका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 30, 2019, 11:41 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...