कांग्रेस में अनुशासनहीनता पर बोले दिग्विजय- सोनिया गांधी और कमलनाथ करेंगे फैसला

मध्यप्रदेश कांग्रेस (Madhya Pradesh Congress) के नेताओं के बयानबाजी के बीच पूर्व मुख्यमंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साफ की स्थिति.

News18 Madhya Pradesh
Updated: September 6, 2019, 1:01 PM IST
कांग्रेस में अनुशासनहीनता पर बोले दिग्विजय- सोनिया गांधी और कमलनाथ करेंगे फैसला
दिग्विजय सिंह ने भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस की.
News18 Madhya Pradesh
Updated: September 6, 2019, 1:01 PM IST
भोपाल. कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) में मंत्री उमंग सिंघार (Umang Singhar) और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) के बीच विवाद से प्रदेश की सियासत (State Politics) गरमाई हुई है. दोनों नेताओं के विवाद की वजह से कांग्रेस पार्टी (Congress) की अंदरूनी कलह खुलकर बाहर आ गई है. शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्थिति साफ करने की कोशिश की. दिग्विजय ने कहा कि उनकी राजनीतिक लड़ाई बीजेपी (BJP) से है और विपक्षी पार्टी इसी का फायदा उठाना चाहती है. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं से अपील की कि वे अनुशासन न तोड़ें.

पार्टी से बड़ा कोई नहीं
मध्य प्रदेश के ताजा सियासी घमासान को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा, 'मेरी राजनीतिक लड़ाई बीजेपी से है. मैं उस विचारधारा से समझौता नहीं कर सकता. पिछले 4-5 दिन से जो कुछ चल रहा है, वो पूरे तरीके से सीएम कमलनाथ और सोनिया गांधी को देखना है.' पार्टी में जारी बयानबाजी को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'मेरी अपील है कि लोग अनुशासन का पालन करें. वो बीजेपी को कोई मौका न दें. हर पार्टी में अनुशासन होना चाहिए, कोई कितना भी बड़ा व्यक्ति हो उस पर कार्रवाई होनी चाहिए. मेरे ऊपर आरोप तब लगने शुरू हुए जब मैंने आईएसआई (ISI) के साथ बीजेपी नेताओं के कनेक्शन को लेकर आवाज़ उठाई. उसके बाद से ये घटनाक्रम शुरू हुआ.'

News - पार्टी में अनुशासनहीनता पर बोले दिग्विजय - सोनिया गांधी और कमलनाथ करेंगे फैसला
कांग्रेस पार्टी में अनुशासनहीनता पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि सोनिया गांधी और सीएम कमलनाथ फैसला करेंगे


कमलनाथ कमज़ोर नहीं
अपने ऊपर लगे आरोपों को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा, 'मुझे 50 साल हो गए राजनीति में, मैं कभी आरोपों से विचलित नहीं हुआ. प्रदेश की जनता जानती है दिग्विजय सिंह क्या है.' उन्होंने कहा कि 'मैं डाइबिटिक नहीं हूं, मैं मीठी चाय पीता हूं. हर व्यक्ति को पोस्टर लगाने का अधिकार है, उस पर किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए. सांसद होने के नाते मुझे चिट्ठी लिखने का अधिकार है. कमलनाथ इतने कमजोर नहीं हैं कि उन्हें सरकार चलाने के लिए किसी की जरूरत पड़े.'

भाजपा नेताओं के सरकार विरोधी बयानों पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि बीजेपी विपक्ष में बैठना पचा नहीं पा रही है.
Loading...

ये भी पढ़ें- 

नीतीश कुमार 'खतरों के खिलाड़ी' क्यों बन रहे हैं?

पी चिदंबरम के जेल जाने पर कपिल सिब्बल का सवाल- कौन करेगा मौलिक आज़ादी की रक्षा! सरकार, ED, CBI या फिर कोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 12:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...