अपना शहर चुनें

States

कांग्रेस में मचे घमासान के बीच दिग्विजय सिंह ने CM कमलनाथ को याद दिलाई उनकी ज़िम्मेदारी

दिग्विजय सिंह ने कमलनाथ से कहा है कि वो पार्टा का वादा पूरा करें. (फाइल फोटो)
दिग्विजय सिंह ने कमलनाथ से कहा है कि वो पार्टा का वादा पूरा करें. (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में इस समय करीब 75 हज़ार अतिथि शिक्षक हैं. ये लोग अपने नियमितिकरण सहित दीगर कामों में ड्यूटी न लगाने की मांग कर रहे हैं.

  • Share this:
भोपाल. पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (DIGVIJAY SINGH) ने शिक्षक दिवस के बहाने मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM KAMALNATH) को कांग्रेस (Congress) का वचन याद दिलाया है. उन्होंने अतिथि शिक्षकों और अतिथि विद्वानों के लिए किया गया पार्टी का वादा निभाने के लिए कहा है. दिग्विजय सिंह समय-समय पर ट्वीट कर सरकार को उसकी ज़िम्मेदारी याद दिलाते रहते हैं. इससे पहले भी वह कई बार ट्वीट कर चुके हैं.

पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने शिक्षक दिवस पर शिक्षकों को नमन करते हुए ट्वीट कर उन्‍हें शुभकामनाएं दीं. कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता ने आगे लिखा कि अतिथि शिक्षकों और अतिथि विद्वानों से किया गया वादा हमें पूरा करना है. मुझे उम्मीद है कि सीएम कमलनाथ कांग्रेस वचन पत्र में किया गया हर वादा पूरा करेंगे.

ये है मांग और वचन
मध्य प्रदेश के अतिथि शिक्षक खुद को नियमित करने की मांग कर रहे हैं. विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में वादा किया था कि अगर पार्टी सत्ता में आई तो तीन महीने के अंदर शिक्षकों को नियमित कर दिया जाएगा. पार्टी को सत्ता में आए नौ महीने हो रहे हैं, लेकिन अतिथि शिक्षकों की मांग अब तक पूरी नहीं हुई है.
आज आंदोलन


कांग्रेस सरकार की वादाख़िलाफी से नाराज़ ये अतिथि शिक्षक आज (5 सितंबर 2019) प्रदेशभर में आंदोलन कर रहे हैं. राजधानी भोपाल के यादगार-ए-शाहजहांनी पार्क में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है. इसमें प्रदेशभर के शिक्षक शामिल हो रहे हैं. सीहोर से अतिथि शिक्षक तिरंगा यात्रा लेकर पहुंचे और रायसेन में समग्र शिक्षक संघ के आह्वान पर काली पट्टी बांधकर काम किया. इससे पहले भी भोपाल में 25 जुलाई को ये शिक्षक धरना-प्रदर्शन कर चुके हैं और विरोध में सिर भी मुंडवाए थे. अतिथि शिक्षकों ने कांग्रेस के वचन पत्र की प्रतियां भी जलाई थीं.

शिक्षक दिवस पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को पार्टी का वादा याद आया और उन्होंने सीएम कमलनाथ को भी वचन याद दिलाया. इससे पहले भी दिग्विजय सिंह समय समय पर सीएम कमलनाथ का ध्यान कांग्रेस वचन पत्र में किए गए वादों की ओर दिला चुके हैं. विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद भी दिग्विजय सिंह ने नवनिर्वाचित विधायकों को शुभ कामनाएं देते हुए कहा था कि अब जिम्मेदारी है कि वचन पत्र का हर वचन पूरा करें.

कितने हैं अतिथि शिक्षक
मध्य प्रदेश में इस समय करीब 75 हज़ार अतिथि शिक्षक हैं. ये शिक्षक तबादलों में पारदर्शिता, स्थानीय निकायों के शिक्षकों की तरह नियमित करने, केंद्र के समान महंगाई भत्ता और शिक्षकों को शिक्षा के सिवाय दीगर कामों में न लगाने की मांग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-कांग्रेस में नहीं हुआ ऑल इज वेल: सिंघार का ट्वीट-सिंधिया का पोस्टर वॉर जारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज