अपना शहर चुनें

States

Lockdown: दिग्विजय ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी-प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने की व्यवस्था करे सरकार

दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी को 
प्रवासी मज़दूरों के लिए चिट्ठी लिखी (फाइल फोटो)
दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी को प्रवासी मज़दूरों के लिए चिट्ठी लिखी (फाइल फोटो)

मध्य प्रदेश सरकार ने कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि वो दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों तक तत्काल मदद पहुंचाएं. उनके खाते में 1 हजार रुपए जमा कराए जाएं. कलेक्टरों को हर दिन शाम 5:00 बजे तक अपनी रिपोर्ट देना होगी

  • Share this:
भोपाल. बड़े शहरों में फंसे प्रवासी मजदूरों के संबंध में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने पीएम मोदी (PM Modi) को चिट्ठी लिखी है. दिग्विजय सिंह ने 21 दिन के लॉक डाउन (Lockdown) को 3 मई तक बढ़ाने के फैसले के बाद बड़े शहरों में फंसे प्रवासी मजदूरों को लेकर चिंता जाहिर की है. उन्होंने पीएम से मांग की है कि वो मज़दूरों को उनके घर भिजवाने की व्यवस्था करें.

दिग्विजय सिंह ने अपनी चिट्ठी में मुंबई और सूरत से आई खबरों के बाद शहरों में फंसे मजदूरों को उनके गांव तक पहुंचाने की व्यवस्था करने की मांग केंद्र सरकार से की है. दिग्विजय ने लिखा है कि पारिवारिक परेशानियों के कारण मजदूर खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. वो अपने घर लौटना चाहते हैं. ऐसे में सरकार उन्हें उनके घर तक पहुंचाने का काम करें. सिंह ने कहा कि सैनिटाइज बसों के जरिए स्क्रीनिंग होने के बाद मजदूरों को पुलिस सुरक्षा के बीच उनके निवास तक पहुंचाया जाना चाहिए. इसके अलावा प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मजदूरों को उनके घर में ही क्‍वारंटाइन किया जाए.

दिग्विजय के सुझाव



दिग्विजय सिंह ने जिला स्तर पर मजदूरों के घरों में या इनके गांव में सार्वजनिक भवनों, स्कूल, पंचायत भवन और दूसरे स्थानों को चिन्हित कर मजदूरों को 14 दिन के लिए क्‍वारंटाइन करने की सलाह दी है. इस पर खर्च होने वाली राशि केंद्र सरकार और राज्य सरकार को उठाने की भी सलाह दी है.
कलेक्टरों को निर्देश
इस बीच मध्य प्रदेश सरकार ने कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि वो दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों तक तत्काल मदद पहुंचाएं. उनके खाते में 1 हजार रुपए जमा कराए जाएं. कलेक्टरों को हर दिन शाम 5:00 बजे तक अपनी रिपोर्ट देना होगी. उन्हें बताता होना कि कितने मज़दूरों को उन्होंने मदद पहुंचायी.कलेक्टरों को बताना होगा कि कितने मज़दूरों के खाते में पैसा जमा किया गया.

ये भी पढ़ें-

लॉकडाउन के कारण खाने के लिए परेशान हैं नक्सली,गांव वालों से मांग रहे हैं राशन

COVID-19 UPDATE : MP के 26 जिले कोरोना की चपेट में, मरीजों की संख्या 1200 पार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज