'बैटमैन' आकाश पर दिग्विजय का PM मोदी पर तंज, कहा- अगर कार्रवाई होती, तो देता बधाई

दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में कहा, 'अगर पीएम में हिम्मत है तो आकाश विजयवर्गीय को निष्कासित कर के दिखाएं. पीएम कहते कुछ हैं और और करते कुछ हैं. मुझे उम्मीद नहीं कि आकाश के खिलाफ कुछ किया जाएगा.'

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 3, 2019, 10:40 AM IST
'बैटमैन' आकाश पर दिग्विजय का PM मोदी पर तंज, कहा- अगर कार्रवाई होती, तो देता बधाई
आकाश विजयवर्गीय मामले पर दिग्विजय सिंह ने पीएम पर कसा तंज
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 3, 2019, 10:40 AM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बीजेपी की संसदीय दल की बैठक में आकाश विजयवर्गीय के मामले में नाराजगी जाहिर की थी. साथ ही दुर्व्यवहार करने वाले नेताओं को लेकर कड़ी आपत्ति जताई थी. इस पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, 'अगर पीएम में हिम्मत है तो आकाश विजयवर्गीय को निष्कासित कर के दिखाएं. पीएम कहते कुछ हैं और और करते कुछ हैं. मुझे उम्मीद नहीं कि आकाश के खिलाफ कुछ किया जाएगा.'

दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर कसा तंज

दिग्विजय सिंह ने पीएम और अमित शाह का भी तंज कसा. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'अगर पीएम मोदी आकाश विजयवर्गीय को निष्कासित करते हैं तो मोदी जी आपको बधाई. यदि नहीं होता है तो यही कहेंगे कि आपकी कथनी और करनी में बहुत अंतर है और आपकी नीयत साफ नहीं है.' दिग्विजय सिंह ने ट्वीट में अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा, 'अमित शाह जी, अपने प्रिय मित्र कैलाश विजयवर्गीय के बेटे का कोई नुकसान होने देंगे. देखते हैं.'


Loading...

दिग्विजय सिंह ने दूसरे ट्वीट में लिखा, 'मोदी जी ने कल (मंगलवार) बीजेपी संसदीय दल की बैठक में आकाश के इस बयान के खिलाफ नाराजी प्रकट की और आकाश के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए. यही नहीं उन बीजेपी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ भी कार्रावाई करने के निर्देश दिये, जिन्होंने जेल से छूटने के बाद आकाश विजयवर्गीय का स्वागत किया और हर्ष फायरिंग की.'



दिग्विजय सिंह ने आकाश विजयवर्गीय पर भी ट्वीट के जरिए तंज किया. उन्होंने लिखा कि आकाश विजयवर्गीय- 'हमें बीजेपी  में सिखाया जाता है- पहले आवेदन, फिर निवेदन और फिर दनादन.' क्या इससे स्पष्ट नहीं होता कि बीजेपी को ना नियम पर, ना कानून पर, ना संविधान पर विश्वास है?



नगर निगम अधिकारी की बैट से की थी पिटाई
बता दें कि बीते 26 जून को इंदौर के गंजी कंपाउंड क्षेत्र में एक जर्जर भवन ढहाने की मुहिम के दौरान हुए विवाद में बीजेपी विधायक आकाश ने नगर निगम के भवन निरीक्षक को क्रिकेट बैट से पीट दिया था. जिसके बाद उसी दिन शाम को आकाश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. हालांकि इसके लगभग 4 दिन बाद उन्हें कोर्ट से जमानत मिल गई थी.

बता दें कि 34 साल के आकाश विजयवर्गीय बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं. पिछले साल हुए एमपी विधानसभा चुनाव में जीतकर वो पहली बार विधायक बने हैं.

यह भी पढ़ें- आकाश विजयवर्गीय की बैंटिंग पर बोले PM मोदी- किसी का भी बेटा हो, पार्टी से निकाल देना चाहिए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 3, 2019, 9:34 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...