अपना शहर चुनें

States

कोरोना वायरस के हमले से घिरे MP में दिग्विजय सिंह ने सरकार को दिए ये सुझाव

दिग्विजय का शिवराज से सवाल (फाइल फोटो)
दिग्विजय का शिवराज से सवाल (फाइल फोटो)

दिग्विजय सिंह ने राज्य सरकार को इस बात की भी सलाह दी है कि अस्पताल, स्वास्थ और पुलिसकर्मियों के लिए सरकार को पर्सनल प्रोटक्शन इक्विपमेंट खरीदना चाहिए ताकि उनमें कोरोना वायरस ना फैल सके.

  • Share this:
भोपाल. कोरोना वायरस से निपटने में लगी सरकार को पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने सुझाव दिया है कि उसे तत्काल RT PCR मशीन खरीदना चाहिए. इस मशीन के जरिए 1 दिन में एक हजार टेस्ट हो सकते हैं. भोपाल और इंदौर में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की मौत के बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के मामले को दिग्विजय सिंह ने गंभीर बताते हुए कहा है कि सरकार को तत्काल भोपाल और इंदौर के लिए दो मशीनें खरीदनी चाहिए. ताकि ज्यादा से ज्यादा टेस्ट हो सकें और समय पर रिपोर्ट मिल सके. इससे कोरोना को कंट्रोल करने में मदद मिलेगी. दिग्विजय सिंह ने राज्य सरकार को इस बात की भी सलाह दी है कि अस्पताल, स्वास्थ और पुलिसकर्मियों के लिए सरकार को पर्सनल प्रोटक्शन इक्विपमेंट खरीदना चाहिए ताकि उनमें कोरोना वायरस ना फैल सके.

इससे पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ फोन पर चर्चा में दिग्विजय सिंह ने कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए कई सुझाव दिए थे. फोन पर चर्चा के बाद उन्होंने लिखित में भी सुझाव दिए. जब उन पर अब तक अमल नहीं किया गया तो दिग्विजय सिंह ने कहा अभी इंतजार कर रहा हूं कि सरकार मेरे सुझावों पर कब तक और किस तरीके से अमल करेगी.

कब बनेगा मंत्रिमंडल



दिग्विजय सिंह ने कांग्रेसी नेता विवेक तन्खा के उस सुझाव की भी याद दिलायी जिसमें विवेक तन्खा ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर प्रदेश में मंत्रिमंडल का गठन करने की मांग की थी. दिग्विजय सिंह ने कहा सरकार को कोरोना से निपटने के लिए मंत्रिमंडल का गठन करना चाहिए.
केंद्र सरकार पर निशाना
दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि जब चाइना में 31 दिसंबर को कोरोना वायरस की पुष्टि हो गई थी तब भी केंद्र सरकार 2 महीने तक प्रदेश से जरूरी इक्विपमेंट निर्यात कर रही थी. उन्होंने लॉक डाउन में देर दिखाने का आरोप भी सरकार पर लगाया है. सिंह का कहना है कि लॉक डाउन से पहले सरकार को लोगों को 3 से 4 दिन का समय देना चाहिए था ताकि लोग अपने घरों पर सुरक्षित तरीके से लौटें. लेकिन अचानक किए गए लॉक डाउन के कारण बड़ी संख्या में लोग एक जगह पर जुटे और उसके बाद वह संक्रमण लेकर आगे बढ़े हैं. यह एक बड़ा खतरा हो सकता है.

लॉक डाउन पर सुझाव
दिग्विजय सिंह ने लॉक डाउन की अवधि बढ़ाए जाने पर कहा है कि उन इलाकों में लॉक डाउन बढ़ाया जाना चाहिए, जहां पर संक्रमण का ज्यादा खतरा है. उन इलाकों को राहत देना चाहिए जहां पर कोरोना का संक्रमण नहीं है.

सरकार टेस्टिंग व्यवस्था तेज करे
दिग्विजय सिंह ने कमलनाथ के उस सुझाव पर भी तेजी के साथ अमल करने के लिए कहा है जिसमें रैपिड बॉडी एक्शन किट के जरिए तेजी के साथ टेस्टिंग हो सकती है.दिग्विजय सिंह ने कहा प्रामाणिक टेस्टिंग व्यवस्था पर सरकार को तेजी के साथ अमल करना चाहिए.

ये भी पढ़ें-

एम्बुलेंस नहीं मिली तो मरीज को स्कूटी पर लेकर पहुंचे, MY के गेट पर तोड़ा दम

MP में कोरोना से निपटेगी 9 सदस्यीय टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी, रोज देगी रिपोर्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज