• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • कांग्रेस सांसदों के निलंबन पर दिग्विजय सिंह बोले, 'अच्छे दिन आ गए'

कांग्रेस सांसदों के निलंबन पर दिग्विजय सिंह बोले, 'अच्छे दिन आ गए'

<div id=":chy.ma">

<div id=":chy.ma">

<div id=":chy.ma">

  • News18
  • Last Updated :
  • Share this:



    कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने पार्टी के 25 सांसदों के निलंबन के बाद कहा है कि यह फैसला लोकतांत्रिक नेता और तानाशाह के बीच बुनियादी फर्क को बताता हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान संसद नहीं चलने देने के बावजूद एक भी भाजपा सांसद को सदन से निलंबित नहीं किया गया था.

    कांग्रेस के कद्दावर नेता ने एक बार फिर समसायिक मुद्दे पर अपनी राय रखने के लिए माइक्रो ब्लागिंग साइट ट्विटर का सहारा लिया. दिग्विजय सिंह ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए लिखा,

    'अटलजी के नेतृत्व में एनडीए सरकार किसी भी सांसद को सस्पेंड नहीं किया गया था. यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान भाजपा ने संसद चलने नहीं दी थी. इसके बावजूद किसी भी भाजपा सांसद को सस्पेंड नहीं किया गया.

    एक अन्य ट्वीट में दिग्विजय ने कहा, 'यह लोकतांत्रिक नेता और तानाशाह के बीच का बुनियादी अंतर हैं. अटलजी और मोदी के बीच का बुनियादी फर्क. अच्छे दिन आ गए!



    दिग्विजय ने एक अन्य ट्वीट में  कहा कि स्पीकर सुमित्रा महाजन द्वारा लिए गए इस फैसले से हैरान हैं क्योंकि वो बीजेपी के सिद्धांतवादी नेताओं में से एक मानी जाती हैं. ऐसे में ताई द्वारा निलंबन का यह निर्णय कहीं किसी दबाव में तो नहीं लिया गया है. जैसा की उन्होंने कहा कि उन्होंने यह कदम सांसदों को सबक सिखाने के लिए लिया है तो पहले वो जरा ईमानदारी का सबक सुषमा स्वराज और घोटाले में फंसे मुख्यमंत्रियों को सिखाएं.

    25 कांग्रेस सांसद 5 दिन के लिए निलंबित

    कांग्रेस सरकार कई दिनों से व्यापम और ललितगेट के मुद्दे पर संसद में हंगामा कर जवाबदारों के इस्तीफे की मांग कर रही है. अपना विरोध जताने के लिए वो हाथ पर काली पट्टी और बैनर ले कर संसद जा रहे थे. स्पीकर सुमित्रा महाजन के लगातार ऐतराज जताने के बावजूद कांग्रेस के सांसद सदन में काली पट्टी बांधकर और हाथों में पोस्टर लेकर आ रहे थे.

    जिसके चलते सोमवार को सुमित्रा महाजन ने 25 कांग्रेस सांसद को सस्पेंड कर दिया. सस्‍पेंड किए गए सांसदों में दीपेंद्र हुड्डा, गौरव गोगोई, सुष्मिता देव, रंजीव रंजन, वेणुगोपाल, अभिजीत मुखर्जी, राजीव साटव और अबू हसन चौधरी के अलावा अन्य शामिल हैं. इन सभी सांसदों पर संसद की कार्यवाही में बाधा डालने का आरोप लगाया गया है. वहीं कांग्रेस ने निलंबन के विरुद्ध अपना विरोध जताने के लिए ससंद को 5 दिन बायकॉट करने का फैसला लिया है.

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज