शिवराज सिंह का सोनिया गांधी से सवाल- कौन चला रहा है मध्यप्रदेश सरकार?

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 2, 2019, 11:47 PM IST
शिवराज सिंह का सोनिया गांधी से सवाल- कौन चला रहा है मध्यप्रदेश सरकार?
सोनिया गांधी से हस्तक्षेप करने की मांग करता हूं- शिवराज सिंह चौहान

पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के पद की शपथ भले ही कमलनाथ ने ली है, लेकिन पीछे से सरकार कोई और चला रहा है. मैं तो पहले से ही बोल रहा हूं कि प्रदेश में ढाई सीएम की सरकार है, जिसमें एक दिग्विजय सिंह हैं.

  • Share this:
मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) के वन मंत्री उमंग सिंघार (Forest Minister Umang Singhar) के बयान से सियासी बवाल उफान पर है. पर्दे के पीछे से सरकार चलाने वाले बयान के बाद उमंग सिंघार ने कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया (Sonia Gandhi) गांधी को चिट्ठी लिखकर एक बार फिर विपक्ष को मौका दिया है. सूबे के पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Ministers Shivraj Singh Chauhan) ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि हम तो पहले से ही कहते थे कि आखिर सरकार कौन चला रहा है. ये ढाई सीएम की सरकार है, जिसमें एक खुद दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) हैं. प्रदेश में अभूतपूर्व संवैधानिक संकट खड़ा हो गया है. इस संकट से निपटने अब सोनिया मैडम को हस्तक्षेप करना ही होगा.

सरकार को मुट्ठी में करने का दम
पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के पद की शपथ भले ही कमलनाथ ने ली है, लेकिन पीछे से सरकार कोई और चला रहा है. मैं तो पहले से ही बोल रहा हूं कि प्रदेश में ढाई सीएम की सरकार है, जिसमें एक दिग्विजय सिंह हैं. मैदान में दिग्विजय सिंह भले ही हार गए हैं, लेकिन अपनी हार को स्वीकार नहीं कर पाए हैं. पूरी सरकार मुट्ठी में रहे ये उनकी कोशिश है. ये अजीबोगरीब बात है. मंत्रियों को चमकाना, चिट्ठी से हिसाब मांगना, मैंने ये काम दिए थे वो हुए है या नहीं, ऐसा खेल चल रहा है. प्रदेश में इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ है. कौन सी मांगें हैं जो वो मनवाना चाहते हैं. कौन से काम हैं जो करवाने हैं. क्या उनके काम नहीं हो पा रहे हैं.

क्या कमलनाथ काम नहीं कर रहे?

शिवराज यहीं नहीं रूके बल्कि उन्‍होंने कहा कि दिग्विजय सिंह ने साफ-साफ कमलनाथ और मंत्रियों के कामकाज पर सवाल खड़े किए हैं. उन्हें लगता है कि जनहित के काम कमलनाथ नहीं कर रहे या फिर मंत्री कामकाज नहीं कर रहे हैं. इसीलिए रोजाना हिसाब मांगते हैं. पूरा ब्यौरा मंत्रियों से मांगते रहते हैं.

शिवराज ने कहा, ' मैं मैडम सोनिया गांधी से हस्तक्षेप करने की मांग करता कि वो प्रदेश की राजनीति में दखल दें. खुद मप्र की राजनीति में हस्तक्षेप करें. मध्य प्रदेश बर्बाद हो रहा है और तबाह हो रहा है. मुझे बस जनता की फिक्र है.'

साथ ही उन्‍होंने कहा, 'अगर हम पॉवर की रेस में होते तो पहले ही सरकार नहीं बनने देते. हम तो बस यहीं चाहते है कि वो बताएं कि आखिर सरकार कौन चला रहा है. मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन है.
Loading...

ये भी पढ़ें- क्या सिंधिया एक बार फिर होंगे कमलनाथ-दिग्विजय के राजनीतिक शिकार?

चिट्ठी की सियासत: दिग्विजय सिंह के बचाव में आए बेटे जयवर्द्धन, वन मंत्री उमंग सिंहार को दिया ये जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 2, 2019, 10:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...