दीक्षा के पिता का आरोप, कहा- करोड़ों की प्रॉपर्टी के लिए ऋतुराज ने मेरी बेटी को फंसाया

शिकायत में कहा है कि उनकी बेटी दीक्षा के नाम करोड़ों की संपत्ति है. ऋतुराज मेरी बेटी को बहला फुसलाकर अपहरण करके ले गया है. वह उसकी करोड़ों रुपए की संपत्ति हड़पना चाहता है.

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 15, 2019, 2:55 PM IST
दीक्षा के पिता का आरोप, कहा- करोड़ों की प्रॉपर्टी के लिए ऋतुराज ने मेरी बेटी को फंसाया
दीक्षा के पिता ने शिकायत में कहा है कि उनकी बेटी के नाम करोड़ों की संपत्ति है.
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 15, 2019, 2:55 PM IST
प्रयागराज (इलाहाबाद) की दीक्षा अग्रवाल और भोपाल के ऋतुराज सिंह राजपूत की लव मैरिज मामले में नया पेंच आ गया है. दीक्षा के पिता पवन अग्रवाल ने इलाहाबाद की सिविल लाइन थाना में भोपाल के ऋतुराज सिंह, उनके पिता बीके राजपूत और मां राजूदेवी सिंह के खिलाफ अपहरण और जान से मारने की धमकी देने की शिकायत दर्ज कराई है. साथ ही शिकायत में कहा है कि उनकी बेटी दीक्षा के नाम करोड़ों की संपत्ति है. ऋतुराज मेरी बेटी को बहला फुसलाकर अपहरण करके ले गया है. वह उसकी करोड़ों रुपए की संपत्ति हड़पना चाहता है.

पवन अग्रवाल ने पुलिस को बताया है कि दीक्षा घर से 30 लाख रुपए के जेवर और दो लाख रुपए नगदी अपने साथ लेकर गई है. उसको भगाने में ऋतुराज के साथ उसके पिता और मां राजूदेवी का भी हाथ है. 10 जुलाई को वे भोपाल स्थित ऋतुराज के घर पहुंचे और बेटी से मिलाने की बात कही लेकिन उन्हें दीक्षा से नहीं मिलने दिया गया. आरोप है कि लड़के के पिता बीके राजपूत ने उन्हें धमकी दी कि अगर कहीं कोई शिकायत की तो बेटी की हत्या करवाकर लाश गायब कर देंगे. इसके बाद वे वापस प्रयागराज गए और13 जुलाई को एसएसपी प्रयागराज को आवेदन दिया था. इसके बाद रविवार को पुलिस ने ऋतुराज, बीके राजपूत और राजूदेवी के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 366, 504, 506 में एफआईआर दर्ज की है.

"अगर हमारे साथ कुछ भी होता है तो उसके लिए पिता, बुआ और फूफा जिम्मेदार होंगे."-

वहीं, दीक्षा अग्रवाल ने एक वीडियो जारी कर कहा कि उसने ऋतुराज सिंह राजपूत से 5 जुलाई 2019 को पूरे होशो-हवास में मर्जी से शादी की है. उसने अपने दादा पूर्व उप महापौर मुरारीलाल अग्रवाल, पिता पवन अग्रवाल, बुआ और फूफा से निवेदन किया है कि वे उन्हें पुलिस प्रशासन और पॉलिटिकल पावर का यूज कर तंग करना बंद कर दें. वो अपने पति के साथ सुख चैन से जीना चाहती है. दीक्षा ने ये भी कहा कि "अगर हमारे साथ कुछ भी होता है तो उसके लिए पिता, बुआ और फूफा जिम्मेदार होंगे."

दीक्षा और ऋतुराज ने 5 जुलाई को शादी कर ली थी.


इस तरह परवान चढ़ा प्यार-

भोपाल के ए सेक्टर राजहर्ष काॅलोनी निवासी बीके राजपूत मंडी बोर्ड में सर्विस करते हैं. उनका बेटा ऋतुराज सिंह राजपूत भुज (गुजरात) में एक प्राइवेट कंपनी में इंजीनियर है. राजपूत का कहना है कि 3 साल पहले ऋतुराज की पहचान इलाहाबाद निवासी दीक्षा अग्रवाल से थाणे (महाराष्ट्र) के एक आश्रम में हुई थी. इस दौरान दोनों के बीच बातचीत शुरू हुई और बात शादी तक पहुंच गई. ऋतुराज 4 जुलाई को दीक्षा से मिलने इलाहाबाद गया था. जब वह 5 जुलाई को वापस लौटा तो दीक्षा उसके साथ ही आ गई. इसके बाद दोनों ने भदभदा के पास एक रेस्तरां में शादी कर ली. फिर 6 जुलाई को नगर निगम में शादी का रजिस्ट्रेशन करा लिया.
Loading...

ये भी पढ़ें- ऋतुराज के पिता ने कहा- TI ने दी SC-ST केस में फंसाने की धमकी

ये भी पढ़ें- 3 साल के बच्चे का अपहरण, टॉफी लेने निकला था
First published: July 15, 2019, 2:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...