कमलनाथ सरकार ने IAS अफसरों को बनाया गया था जिलों का प्रभारी सचिव, अब हुआ ये बदलाव

प्रभारी सचिवों को अपने ज़िलों में किसान कर्ज माफी, फसल की खरीदी-भुगतान, पीने के पानी की व्यवस्था, खाद-बीज की उपलब्धता और सामाजिक सुरक्षा पेंशन, पोषण आहार, डॉक्टरों की उपस्थिति और सड़क निर्माण काम की समीक्षा करना है

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 12, 2019, 6:48 PM IST
कमलनाथ सरकार ने IAS अफसरों को बनाया गया था जिलों का प्रभारी सचिव, अब हुआ ये बदलाव
आईएएस अफसरों का जिला प्रभार बदला
Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 12, 2019, 6:48 PM IST
भोपाल. मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में आईएएस अधिकारियों (IAS OFFICERS)के ज़िला प्रभार में बदलाव किया गया है. कुछ अफसरों के ज़िले का प्रभार बदल दिया गया है. कुछ अधिकारियों के प्रभार वाले जिलों में बदलाव किया गया है. जबकि कुछ को प्रभार मुक्त किया गया है.कमलनाथ सरकार (KAMALNATH GOVERNMENT)में प्रभारी मंत्रियों की तरह आईएएस अफसरों को भी ज़िलों की ज़िम्मेदारी दी गयी है. उन्हें ज़िले का प्रभारी सचिव बनाया गया है.

सामान्य प्रशासन विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है. नए आदेश के मुताबिक संजय दुबे को भिंड की जगह जबलपुर का प्रभारी सचिव नियुक्त किया गया है.पंकज राग बड़वानी की जगह निवाड़ी के प्रभारी सचिव होंगे. रमेश थेटे निवाड़ी की जगह बड़वानी के प्रभारी सचिव होंगे. इसी तरह नरेंद्र सिंह परमार को भिंड, अलका श्रीवास्तव को दमोह का प्रभारी सचिव बनाया गया है. पल्लवी जैन गोविल सतना की जगह मंडला की प्रभारी सचिव होंगी. राघवेंद्र सिंह को मण्डला की जगह सतना ज़िले की ज़िम्मेदारी दी गई है. आई पी सी केसरी, फैज़ अहमद किदवई को प्रभार मुक्त किया गया है.
क्या थी प्रभारी सचिव की व्यवस्था ?
कमलनाथ सरकार ने जनता को बेहतर सुविधाएं देने के मकसद से वरिष्ठ आईएएस अफसरों को ज़िला प्रभारी सचिव बनाया था. 26 जून 2019 को इसका आदेश जारी हुआ था.सरकार ने अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव से लेकर सचिव स्तर तक के आईएएस अधिकारियों को अलग-अलग जिलों की जिम्मेदारी सौंपी थी.

इन पर थी ज़िम्मेदारी
मनोज श्रीवास्तव को भोपाल, गौरी सिंह को इंदौर और डॉ. राजेश राजौरा को ग्वालियर का प्रभारी सचिव बनाया गया था. अधिकारियों को प्रभार वाले जिलों में नियमित दौरा करने की ताकीद की गई थी. इन प्रभारी सचिवों को अपने ज़िलों में किसान कर्ज माफी, फसल की खरीदी-भुगतान, पीने के पानी की व्यवस्था, खाद-बीज की उपलब्धता और सामाजिक सुरक्षा पेंशन, पोषण आहार, डॉक्टरों की उपस्थिति और सड़क निर्माण काम की समीक्षा करना है.
क्या हुआ बदलाव
Loading...

संजय दुबे भिंड की जगह जबलपुर के प्रभारी सचिव होंगे
पंकज राग बड़वानी की जगह निवाड़ी के प्रभारी सचिव होंगे
रमेश थेटे निवाड़ी की जगह बड़वानी के प्रभारी सचिव होंगे
नरेंद्र सिंह परमार को भिंड, अलका श्रीवास्तव को दमोह का प्रभारी सचिव बनाया गया
पल्लवी जैन गोविल सतना के स्थान पर मंडला की प्रभारी सचिव होंगी
राघवेंद्र सिंह को मण्डला के जगह सतना ज़िले की ज़िम्मेदारी
आई पी सी केसरी, फैज़ अहमद किदवई को प्रभार मुक्त किया गया

ये भी पढ़ें-नये मोटर व्हीकल एक्ट पर CM कमलनाथ का ट्वीट-केंद्र जुर्माने पर फिर करे विचार

कमलनाथ सरकार ने आदिवासियों के लिए बनाया नया प्लान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 6:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...