Assembly Banner 2021

CAA का विरोध करने वाले BJP विधायक को मिला कांग्रेस का साथ, कहा- DNA से कांग्रेसी हैं नारायण त्रिपाठी

CAA को लेकर कांग्रेस और भाजपा आमने सामने हैं.

CAA को लेकर कांग्रेस और भाजपा आमने सामने हैं.

बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी (Narayan Tripathi) ने पार्टी लाइन से हटकर सीएए (CAA) को लेकर कहा है कि धर्म के नाम पर बंटवारा किया जा रहा है और ये गलत है. जबकि त्रिपाठी को भोपाल से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद (Congress MLA Arif Masood) का भरपूर साथ मिला है.

  • Share this:
भोपाल. बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी (Narayan Tripathi) ने पार्टी लाइन से हटकर सीएए (CAA) का विरोध किया है. इस बयान के लिए उन्‍हें भले ही अपनी पार्टी का विरोध झेलना पड़ रहा है, लेकिन त्रिपाठी को भोपाल से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद (Congress MLA Arif Masood) का भरपूर साथ मिला है. कांग्रेस विधायक ने कहा कि नारायण त्रिपाठी का डीएनए कांग्रेसी है. आपको बता दें कि भाजपा विधायक ने कहा था कि धर्म के नाम पर देश का बंटवारा नहीं किया जाना चाहिए. उन्‍होंने कहा कि या तो आप संविधान के साथ हैं या फिर विरोध में हैं. यदि संविधान के हिसाब से नहीं चलना है तो इसे फाड़ कर फेंक देना चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं गांव से आता हूं और वहां आज आधार कार्ड नहीं बन रहे हैं तो बाकी कागज कहां से लाएंगे. गृह क्लेश की स्थिति में आज गांव में लोग एक दूसरे की तरफ देख भी नहीं रहे हैं.

अपनी ही पार्टी पर साधा निशाना
बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि वसुधैव कुटुम्बकम की बात होती है, लेकिन धर्म के नाम बंटवारा किया जा रहा है,ये गलत है. पार्टी लाइन से हटकर बयान देने पर नारायण त्रिपाठी ने कहा कि ये मेरे दिल की आवाज हैं.

कांग्रेस विधायक ने कही ये बात
भोपाल से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने नारायण त्रिपाठी के डीएनए को कांग्रेसी बताया है. कांग्रेस विधायक ने बीजेपी विधायक के एनआरसी समर्थन पर कहा कि यह उनके व्यक्तिगत विचार हैं. वह (नारायण त्रिपाठी) उनके पुराने मित्र हैं और साथ ही उनका डीएनए आज भी कांग्रेसी है.


गौरतलब है कि इससे पहले भी नारायण त्रिपाठी ने नाटकीय ठंग से कांग्रेस की सदस्यता लेने की चर्चा चली थी. विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में भी उन्होंने कांग्रेस का सर्मथन किया था. ऐसे में अब बीजेपी विधायक का सीएए के खिलाफ बयान देना उन्हें कितना महंगा पड़ेगा यह आने वाला वक्त बताएगा. हालांकि पार्टी लाइन से हटकर बयान देने पर बीजेपी की मुश्किलें जरूर बढ़ गई हैं.
भाजपा ने झाड़ा पल्‍ला
बीजेपी ने भी उनके (नारायण त्रिपाठी) निजी विचार बताते हुए उनके इस बयान से पल्ला झाड़ लिया है. हालांकि नारायण त्रिपाठी के बयान के बाद उनसे पार्टी हाईकमान स्पष्टिकरण जरूर मांग सकता है.

ये भी पढ़ें-

PCC चीफ के लिए मंत्रियों के बयानों में भी गुटबाज़ी, रोज आ रहे हैं नये बयान



PFI को लेकर कांग्रेस MP का बड़ा बयान, बोले- सिब्बल के पास किसी चीज की कमी नहीं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज