मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव में नहीं लगेगी शिक्षकों की ड्यूटी

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 9, 2019, 6:27 PM IST
मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव में नहीं लगेगी शिक्षकों की ड्यूटी
चुनाव का प्रशिक्षण लेते शिक्षक

भोपाल जिले में लोकसभा चुनाव की तैयारियों में करीब 2 हजार से ज्यादा शिक्षक लगे हुए हैं. शिक्षकों के निर्वाचन कार्य में लगे होने के चलते शैक्षणिक कार्य प्रभावित हो रहा है. चुनावी कार्य में ड्यूटी के चलते स्कूलों में शिक्षकों की कमी हो गई है.

  • Share this:
विधानसभा चुनाव के बाद अब लोकसभा चुनाव की तैयारियां शुरू हो गई हैं. चुनावी कार्य में ज्यादातर शिक्षकों से ही काम लिया जाता रहा है. ऐसे में शिक्षक विधानसभा चुनाव के बाद लोकसभा चुनाव के कार्यों में जुट गए हैं. लोकसभा चुनाव से पहले शिक्षकों के लिए फिलहाल राहत भरी खबर आई है. मध्य प्रदेश राज्य शिक्षा केंद्र ने शिक्षकों को निर्वाचन कार्य से मुक्त रखने का आदेश जारी किया है.

भोपाल जिले में लोकसभा चुनाव की तैयारियों में करीब 2 हजार से ज्यादा शिक्षक लगे हुए हैं. शिक्षकों के निर्वाचन कार्य में लगे होने के चलते शैक्षणिक कार्य प्रभावित हो रहा है. चुनावी कार्य में ड्यूटी के चलते स्कूलों में शिक्षकों की कमी हो गई है. चुनावी ड्यूटी का बच्चों के रिजल्ट पर असर न पड़े, यही वजह है कि अब परीक्षाओं से ठीक पहले शिक्षकों को चुनावी ड्यूटी से मुक्त करने के निर्देश जारी किए गए हैं. शिक्षक संघ का कहना है कि आदेश तो कई बार जारी हुए हैं, लेकिन कभी भी जमीनी स्तर पर इन आदेशों का पालन नहीं हुआ है.

शिक्षकों के चुनावी कार्य में लगे होने से अब तक छात्रों का सिलेबस भी पिछड़ा हुआ था. जिला शिक्षा अधिकारियों का कहना है कि शिक्षकों को तत्काल चुनावी कार्य से मुक्त किया जाएगा, लेकिन चुनावी कार्य में कर्मचारियों की कमी होने पर शिक्षकों को ही ड्यूटी पर लगाया जाएगा और स्कूलों के आसपास के केंद्रों पर उनकी ड्यूटी लगाई जाएगी, जिससे वे बच्चों की पढ़ाई पर भी ध्यान दे सकें.

यह भी पढ़ें-  अजब एमपी का गजब जिला: स्कूलों में कहीं छात्र ज्यादा तो कहीं शिक्षक ज्यादा

यह भी पढ़ें-  लोकसभा चुनाव : BJP के मंत्रियों, सांसदों-विधायकों को 10 KM रोज पदयात्रा का लक्ष्‍य

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 9, 2019, 6:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...