Home /News /madhya-pradesh /

अब चलती ट्रेन में दर्ज होगी ऑनलाइन FIR, ट्रेन छोड़कर GRP थाने जाने की जरूरत नहीं

अब चलती ट्रेन में दर्ज होगी ऑनलाइन FIR, ट्रेन छोड़कर GRP थाने जाने की जरूरत नहीं

Indian Railways: मध्य प्रदेश से गुजरने वाली ट्रेनों में अपराध होने पर ऑनलाइन FIR दर्ज की जा सकेगी.

Indian Railways: मध्य प्रदेश से गुजरने वाली ट्रेनों में अपराध होने पर ऑनलाइन FIR दर्ज की जा सकेगी.

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश से गुजरने वाली ट्रेनों में यात्रियों को बड़ी सुविधा मिलेगी. किसी भी तरह के अपराध होने की सूरत में अब उन्हें ट्रेन छोड़कर जीआरपी थाने जाने की जरूरत नहीं होगी. वे ट्रेन से ही E-FIR दर्ज करा सकेंगे. ये घोषणा GRP के 155वां स्थापना दिवस पर की गई. यह स्थापना दिवस पहली बार भोपाल में मनाया गया. इस दौरान मध्य प्रदेश में आने वाली भोपाल, जबलपुर, इंदौर रेल इकाईयों की अलग-अलग वेबसाइट लॉन्च की गईं. रेल यात्री grpbhopal.mppolice.gov.in, grpjabalpur.mppolice.gov.in, grpindore.mppolice.gov.in पर E-FIR के साथ-साथ दूसरी मदद भी ले सकते हैं.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्य प्रदेश के रेल यात्रियों को सरकार ने बड़ी सौगात दी है. अब चलती ट्रेन में यात्री किसी भी आपराधिक घटना की E-FIR दर्ज करा सकते हैं. उन्हें अपनी ट्रेनें छोड़कर GRP थाने  में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. शासकीय रेल पुलिस GRP का 155वां स्थापना दिवस पहली बार भोपाल में मनाया गया. इस दौरान मध्य प्रदेश में आने वाली भोपाल, जबलपुर, इंदौर रेल इकाईयों की अलग-अलग वेबसाइट लॉन्च की गईं.

इन तीनों वेबसाइट में चलती ट्रेन में सफर करने वाले रेल यात्रियों के लिए E-FIR का ऑप्शन दिया गया है. इस ऑप्शन के जरिए चोरी समेत दूसरे आपराधिक मामलों की शिकायत आसानी से की जा सकती है. इस ऑप्शन में घटना से जुड़ी तमाम जानकारी अपलोड करने के बाद ऑटोमेटिक ई-एफआईआर जनरेट हो जाएगी. रेल यात्री grpbhopal.mppolice.gov.in, grpjabalpur.mppolice.gov.in, grpindore.mppolice.gov.in पर E-FIR के साथ-साथ दूसरी मदद भी ले सकते हैं.

grpmphelp एप पर भी मिलेगी मदद

वेबसाइट के अलावा रेल यात्रियों को grpmphelp एप पर भी मदद मिलेगी. इस एप पर भी यात्रियों को SOS बटन का ऑप्शन है. इस पर तत्काल मदद मिलेगी. इस एप को गूगल प्ले स्टोर से आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है. साथ ही, इस एप में महिला सुरक्षा के साथ मदद और समस्या के समाधान के भी तमाम ऑप्शन दिए गए हैं. भोपाल जीआरपी एसपी हितेष चौधरी ने बताया कि QRT भी चलती ट्रेन में यात्रियों को एफआईआर उपलब्ध करा रही है. भोपाल, जबलपुर, इंदौर रेल इकाईयों में 1 जनवरी से 7 जनवरी तक रेल यात्री सुरक्षा सप्ताह मनाया जा रहा है.

एमपी पुलिस परीक्षा में नहीं होगी नेगेटिव मार्किंग

दूसरी ओर, MPPEB द्वारा 8 जनवरी से एमपी पुलिस में कॉन्स्टेबल पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाएगा. परीक्षा 100 अंको की होगी. जिसमें उम्मीदवारों से 100 प्रश्न पूछे जाएंगे. सभी प्रश्न बहुविकल्पीय प्रकार के होंगे. खास बात यह है कि परीक्षा में किसी प्रकार की नेगेटिव मार्किंग नहीं की जाएगी. ऐसे में उम्मीदवारों को हर प्रश्न का उत्तर देने की कोशिश करनी चाहिए. परीक्षा के बाद एमपीपीईबी द्वारा इसकी आंसर की जारी की जाएगी. जिस पर उम्मीदवार आपत्ति दर्ज करा सकेंगे. परीक्षा के बाद कुल पदों से 5 गुना अधिक उम्मीदवारों को शारीरिक दक्षता परिक्षण के लिए बुलाया जाएगा.

गौरतलब है कि एमपीपीईबी ने कॉन्स्टेबल एवं रेडियो कांस्टेबल के 4000 पदों पर भर्ती के लिए 2020 में अधिसूचना जारी की थी. परीक्षा में सामान्य ज्ञान, बौद्धिक क्षमता व मानसिक अभिरुचि एवं विज्ञान व सरल अंक गणित के प्रश्न पूछे जाएंगे. जिसमें सामान्य ज्ञान व तार्किक ज्ञान से 40 अंकों के प्रश्न वहीं अन्य दोनों में 30-30 अंकों के प्रश्न पूछे जाएंगे.

Tags: Bhopal news, Indian Railways, Irctc, Mp news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर