कैबिनेट बैठक पर संशय बरकरार, चुनाव आयोग ने कहा- अभी नहीं ली गई अनुमति

Madhya Prdaesh Election: कांताराव ने कहा कि शासन की ओर से किसी भी तरह का बड़ा निर्णय या फिर पॉलिसी पर कोई भी निर्णय नहीं लिया जा सकता

Makarand Kale | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 4, 2018, 10:02 AM IST
कैबिनेट बैठक पर संशय बरकरार, चुनाव आयोग ने कहा- अभी नहीं ली गई अनुमति
शिवराज सिंह चौहान (फाइल फोटो)
Makarand Kale | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 4, 2018, 10:02 AM IST
मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार द्वारा मतगणना से ठीक पहले बुलाई गई कैबिनेट बैठक पर राजनीति गर्म है. कांग्रेस ने जहां इस बैठक के समय पर सवाल उठाए हैं तो वहीं बीजेपी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस को नियमों की जानकारी नहीं है. अब इस मामले में मुख्य निर्वाचन अधिकारी का भी बयान सामने आया है.

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव के मुताबिक कैबिनेट की बैठक को लेकर चुनाव आयोग को कोई पत्र प्राप्त नहीं हुआ है. कांताराव ने कहा कि शासन की ओर से किसी भी तरह का बड़ा निर्णय या फिर पॉलिसी पर कोई भी निर्णय नहीं लिया जा सकता. इसे लेकर चुनाव आयोग से अनुमति जरूरी है लेकिन अभी तक कोई पत्र चुनाव आयोग को नहीं मिला है.

दरअसल, पांच तारीख को सरकार ने कैबिनेट की बैठक बुलाई है जिसे लेकर कांग्रेस लगातार हमलावर हो रही है. कांग्रेस ने इलेक्शन कमिशऩ को सीएम के मंत्रालय जाने को लेकर भी शिकायत की है. इसके बाद आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. कांग्रेस ने जहां इसे नियमों के खिलाफ बताया हिया और चुनाव आयोग से बैठक पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने की मांग की है. तो वहीं बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस को नियमों की जानकारी नहीं है.

इससे पहले सरकार की तरफ से मंत्री विश्वास सारंग ने बयान दिया है कि कैबिनेट की बैठक को लेकर जो भी प्रक्रिया हो रही है संवैधानिक रूप से सही है. कांग्रेस को इतने साल सत्ता में रहने के बाद भी नियम कानून का ज्ञान नही है. वहीं कांग्रेस के ईवीएम पर उठाए जा रहे सवाल को लेकर सारंग ने कहा, 'हार का डर होता है तो ऐसे इल्जाम लगाते हैं, जीतते हैं तो कहते हैं कि हमारी खूबी, हारते हैं तो EVM पर आरोप लगाते हैं. कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट को भी कठघरे में खड़ा करती है.'

यह पढ़ें- योगी का MP इफेक्ट! 'अली नहीं बजरंगबली' के बाद इस्तीफ़ों का दौर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2018, 10:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...