Bhopal News: बिजली विभाग के 150 से ज्यादा कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव, शहर पर मंडराया अंधेरे का संकट

भोपाल में अगले हफ्ते से बिजली संकट गहरा सकता है.

भोपाल में अगले हफ्ते से बिजली संकट गहरा सकता है.

मध्‍य प्रदेश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर जारी है. जबकि इसका असर भोपाल और इंदौर जैसे बड़े शहरों में खूब दिखाई दे रहा है. इस बीच भोपाल बिजली विभाग के 150 कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव होने से हड़कंप मच गया है और आने वाले समय में बिजली सप्‍लाई बाधित हो सकती है.

  • Share this:
भोपाल. मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) पर अब कोरोना वायरस (Coronavirus) का असर बिजली सप्लाई पर देखा जा रहा है. आने वाले दिनों पर शहर की बिजली सप्लाई (Electricity supply) पर संकट पड़ सकता है. इसके पीछे बिजली विभाग के 150 से ज्यादा कर्मचारी अधिकारियों का कोरोना पॉजिटिव होना बताया जा रहा है. शहर के सबसे पॉश इलाका चार इमली में भी 40 फीसदी कर्मचारी पॉजिटिव हैं.

बता दें कि बिजली कंपनी के अधिकारी कर्मचारी लगातार तेजी से कोरोना के शिकार हो रहे हैं. अभी तक 150 बिजली अधिकारी कर्मचारी पॉजिटिव हो चुके हैं. इनमें मैदानी अमले से लेकर जोनल दफ्तरों और मुख्यालय के कर्मचारी मौजूद हैं. कई अधिकारी कर्मचारियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, तो अधिकांश को होम आइसोलेशन में रखा गया है. इसी वजह से बिजली सप्लाई का काम शहर में प्रभावित हो सकता है.

अगले हफ्ते से शहर में बिजली सप्‍लाई हो सकती है बाधित

बिजली विभाग के अधिकारी और कर्मचारी पॉजिटिव होने से अगले हफ्ते से शहर में बिजली सप्लाई में दिक्कत आ सकती है. बिजली कंपनी में करीब 700 अधिकारी कर्मचारी काम करते हैं. इनमें मैदानी अमले में 450 कर्मचारी शामिल हैं. जबकि शहर की बिजली लाइनों की मेंटेनेंस की व्यवस्था देखने वाले डिवीजन के हालत भी ठीक नहीं हैं.
सभी कर्मचारियों को वैक्सीनेशन की मांग

बिजली विभाग ने कर्मचारी और अधिकारियों के बीच फैलते संक्रमण के मद्देनजर अब सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर को पत्र लिखा है. इस पत्र में बिजली कंपनी में कार्यरत सभी आयु वर्ग के अधिकारी कर्मचारियों को टीका लगाने की मांग की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज