लाइव टीवी

सड़क बनाने में गड़बड़ी की या गुटख़ा बेचा, EOW आ रहा है ऐसे 12 लोगों पर छापा मारने

Manoj Rathore | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 11, 2019, 2:18 PM IST
सड़क बनाने में गड़बड़ी की या गुटख़ा बेचा, EOW आ रहा है ऐसे 12 लोगों पर छापा मारने
सड़क बनाने में गड़बड़ी की या गुटख़ा बेचा, EOW आ रहा है ऐसे 12 लोगों पर छापा मारने

EOW सबसे पहले प्रतिबंधित गुटाखा (Banned gutkha) बेचने वाले कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी में है. इन कारोबारियों के खिलाफ पुख्ता सबूत मिल गए हैं.

  • Share this:
भोपाल. EOW अब नये रोल में आने वाला है. अभी तक घोटालों (scam) और अनियमितताओं की जांच करने वाला EOW अब जनता की हिफाज़त भी करेगा और ग़लत काम करने वालों का नाम सबको बता देगा. फिलहाल इंटेलिजेंस विंग (Intelligence wing) ने 12 लोगों की कुंडली तैयार कर ली है. बस अब छापे (raid) शुरू होने वाले हैं.

ई टेंडर घोटाला हो, एमसीयू घोटाला या फिर सिंहस्थ में हेराफेरी.इस तरह के तमाम चर्चित घोटालों की जांच के लिए EOW कर रही है. लेकिन अब वो नया मास्टर प्लान लेकर आया है. वो अवैध गतिविधियों में शामिल लोगों खिलाफ हल्ला बोलने वाला है. ऐसे लोगों के इंटेलिजेंस इनपुट कलेक्ट कर लिए हैं. इंटेलिजेंस टीम लगातार काम कर रही है.बताया जा रहा है ऐसे 12 लोगों के खिलाफ डाटा जुटा लिया गया है.जनता की रक्षक बनकर EOW की टीम उनके हितों की रक्षा करेगी.

ये है नयी भूमिका
EOW की नयी भूमिका पूरी तरह समाज सेवी के तौर पर है. जिन खराब सड़कों की वजह से आम जनता परेशान होती है,उनकी मरम्मत समय पर नहीं होती. जिम्मेदार कंपनियां भाग जाती हैं.ऐसी कंपनियों के ख़िलाफ EOW छापा मारेगा. जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने वाली कंपनियों की लिस्ट भी उसने तैयार की है. ज्यादा मुनाफे के लिए लोगों को मिलावटी सामान दिया जाता है.ऐसी मिलावटी कंपनियों के खिलाफ भी वो कार्रवाई करेगा.

रेत की अवैध खुदाई हो या फिर काला बाजारी, जनता के हित से जुड़े हर छोटे-बड़े मामलों की जानकारी EOW जुटा रहा है. उसके पास भ्रष्टाचार निवारण के अलावा शारीरिक अपराध छोड़कर बाकी मामलों में कार्रवाई करने का अधिकार है. वो सबसे पहले प्रतिबंधित गुटाखा बेचने वाले कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी में है. इन कारोबारियों के खिलाफ पुख्ता सबूत मिल गए हैं.

जनता की रक्षक
सीएम कमलनाथ ने सभी जांच एजेंसियों को साफ निर्देश दिए हैं कि जन हित के लिए जो भी कार्रवाई बनती है, उसे किया जाए.बताया जा रहा है ईओडब्ल्यू को इस कार्रवाई के लिए खासतौर पर जिम्मेदारी दी गई है.यही वजह है कि ईओडब्ल्यू अब गैर कानूनी काम करने वालों पर भी शिकंजा कसने जा रही है.ये भी पढ़ें-थोक तबादलों से परेशान पुलिस मुख्यालय ने गृहमंत्री से कहा-बस अब और नहीं

जिस ऑफिस में बैठकर जीतू ने छपवाई हनी ट्रैप की खबरें, नगर निगम ने किया ध्वस्त

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 2:14 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर