होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

बेटी के पहले जन्मदिन पर पिता ने दी गोलगप्पा पार्टी, लोगों को खिलायीं 1 लाख 11 हजार पानी पुरी

बेटी के पहले जन्मदिन पर पिता ने दी गोलगप्पा पार्टी, लोगों को खिलायीं 1 लाख 11 हजार पानी पुरी

Beti bachao-beti padhao.

Beti bachao-beti padhao.

Interesting News. बेटी जब पैदा हुई थी तब अंचल गुप्ता ने 50 हजार पानीपुरी खिलाई थीं. अब पहली वर्षगांठ पर 1,11,000 पानी पुरी खिलायीं.अंचल गुप्ता का कहना है बेटियां घर की लक्ष्मी होती हैं. घर में समृद्धि लाती हैं. बेटी पूरे वंश को चलाती हैं. यही वजह है कि अब समाज में लोगों की मानसिकता पूरी तरह से बदले. कोई भी अपनी बेटियों को बोझ ना समझे. समाज में बदलाव आए लोगों की मानसिकता पूरी तरह से बेटियों के प्रति बदले. बेटी है तो कल है.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. एमपी में एक से बढ़कर एक मजेदार किस्से सामने आते हैं. भोपाल में एक शख्स ने बेटी का जन्मदिन बिलकुल अलग अंदाज में मनाया. उसने जन्मदिन पर गोलगप्पे की दावत दे डाली औऱ पूरे एक लाख 11 हजार गोलगप्पे लोगों को मुफ्त में खिलाए.

भोपाल में एक पिता ने अपनी बिटिया के जन्मदिन पर अनोखी पहल की. बेटी के पहले जन्मदिन पर उसने पानीपुरी का भोज दिया. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की तर्ज पर पिता अंचल गुप्ता ने समाज में बेटियों को बचाने का संदेश दिया. समाज में लोग बेटियों को बोझ ना समझे और लोगों की मानसिकता में बदलाव आए. बेटी के एक साल के पूरा होने पर 1,11000 पानी पुरी फ्री में खिलाई गयी.

एक लाख 11हज़ार गोलगप्पे 
राजधानी भोपाल के कोलार इलाके में गोलगप्पे का स्टॉल लगाने वाले अंचल गुप्ता ने समाज में नया संदेश दिया है. अंचल गुप्ता ने बेटी अनोखी के एक साल के होने पर धूमधाम से उसका जन्मदिन मनाया. पहला जन्मदिन इसलिए भी खास रहा क्योंकि इसमें सभी लोगों को गोलगप्पे खाने का निमंत्रण दिया गया. पिता अंचल गुप्ता ने बेटी के जन्मदिन पर दोपहर 2:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक फ्री में पानी पुरी खाने का निमंत्रण दिया. लोग भी निमंत्रण पाकर दौड़े चले आए.

ये भी पढ़ें- Good News : एमपी के कूनो पालपुर अभयारण्य में जल्द आ रहे हैं अफ्रीका से चीते, तेंदुओं को भगाएंगे हाथी

बेटी हुई तो 50 हजार गोलगप्पे
बेटी जब पैदा हुई थी तब अंचल गुप्ता ने 50 हजार पानीपुरी खिलाई थीं. अब पहली वर्षगांठ पर 1,11,000 पानी पुरी खिलायीं.अंचल गुप्ता का कहना है बेटियां घर की लक्ष्मी होती हैं. घर में समृद्धि लाती हैं. बेटी पूरे वंश को चलाती हैं. यही वजह है कि अब समाज में लोगों की मानसिकता पूरी तरह से बदले. कोई भी अपनी बेटियों को बोझ ना समझे. समाज में बदलाव आए लोगों की मानसिकता पूरी तरह से बेटियों के प्रति बदले. बेटी है तो कल है.

विधायक ने दिया बेटी को आशीर्वाद
अंचल गुप्ता के घर बेटी को आशीर्वाद देने और गोलगप्पे खाने बड़ी संख्या में लोग पहुंचे. लंबी-लंबी कतारें लगीं. अंचल गुप्ता ने गोल गप्पे खिलाने के लिए स्टॉल लगाकर कर्मचारियों को तैनात किया था. करीब 20 से 21 स्टॉल लगाए गए. विधायक रामेश्वर शर्मा भी अनूठी पहल में भागीदारी बने और बेटी अनोखी को आशीर्वाद दिया.

Tags: Beti Bachao-beti Padhao, Bhopal news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर