बड़ी खबर: CM शिवराज ने किया ऐलान, मध्य प्रदेश में पटाखों पर नहीं लगेगा बैन

चीनी पटाखों पर पहले की तरह प्रतिबंध जारी रहेगा.
चीनी पटाखों पर पहले की तरह प्रतिबंध जारी रहेगा.

कोविड-19 के मरीजों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए NGT ने आज ही दिल्ली-एनसीआर में 9 नवंबर से 30 नवंबर तक पटाखे चलाने पर प्रतिबंध (BAN) लगाया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 10:51 PM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश (MP) में पटाखों (Firecrackers) पर बैन नहीं लगेगा. मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj singh chauhan) ने आज ये ऐलान कर दिया है, लेकिन चीनी पटाखे पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगे. इस बाबत मुख्‍यमंत्री ने ट्वीट भी किया है. ट्विटर पर चौहान ने एक व्यक्ति के सवाल पर यह जवाब दिया. इस व्यक्ति ने मुख्यमंत्री से सवाल किया था कि मामाजी (शिवराज सिंह चौहान) क्या देश के कुछ राज्यों की तरह मध्य प्रदेश में भी दिवाली पर पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध रहेगा?

अपने ट्वीट में मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने लिखा, 'मध्य प्रदेश खुशियों का प्रदेश है. यहां पर हम खुशियों पर कभी भी किसी तरह का प्रतिबंध नहीं लगाते. वो आगे लिखते हैं. मध्य प्रदेश में पटाखों पर कोई प्रतिबंध नहीं है. लेकिन चीनी पटाखों पर प्रतिबंध जरूर लगा रहेगा. शिवराज सिंह चौहान ने जनता को संबोधित करते हुए लिखा, 'आप भगवान राम के अयोध्या लौटने की ख़ुशी मनाएं. पटाखे जलाएं एवं धूम-धाम से दिवाली मनाएं.'
देवी-देवताओं के चित्र वाले पटाखे न जलाएंअपने अगले ट्वीट में मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक संदेश और अपील जनता से की. उन्होंने लिखा, 'पटाखे जलाते वक्त इस बात का जरूर ध्यान रखा जाए कि किसी भी देवी-देवता की तस्वीर वाले पटाखे न बेचे और न खरीदें. उस पर पूर्णतः प्रतिबंध है.'

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने कहा कि मित्रों, इस दीपावली पर हमारे बहुत से छोटे-छोटे व्यापारी भाइयों को आर्थिक रूप से सशक्त करने में योगदान देने का एक स्वर्णिम अवसर हमारे पास है. मिट्टी से बने दीपक अधिक से अधिक संख्या में खरीदें. इसके साथ ही जितने भी स्थानीय उत्पाद हों, उन्हें प्राथमिकता दें. आपको बता दें कि चार नवंबर को मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश में चीनी एवं अन्य विदेशी पटाखों का भंडारण, परिवहन तथा विक्रय पर पूर्णत: प्रतिबंधित लगाया है.



NGT का आदेश
आज ही NGT ने दिल्ली एनसीआर में 9 नवंबर से 30 नवंबर तक पटाखे चलाने पर प्रतिबंध लगाया है. कोरोना संक्रमण के कारण इस बार दीपावली पर वायु प्रदूषण रोकने और कोविड-19 के मरीजों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए NGT ने नई दिल्ली में दायर तमाम याचिकाओं पर फैसला सुनाया था. उसने जिन याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए ये फैसला दिया उनमें से एक याचिका जबलपुर से भी लगायी गयी थी. NGT का ये आदेश देश के सभी राज्यों के लिए है. आज के NGT के आदेश के बाद ये कयास लगाया जा रहा था कि मध्य प्रदेश के भी भोपाल ,जबलपुर, ग्वालियर उज्जैन और इंदौर जैसे शहरों जहां का एयर क्वालिटी लेवल काफी खराब है, पटाखों पर बैन लग सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज