VIDEO : बारिश से हलाकान एमपी: बस्तियों में पानी भरा, बाढ़ में डूबे पुल-पुलिया

मौसम विभाग कह रहा है प्रदेश में 3 सिस्टम सक्रिय हैं. इससे पूरे प्रदेश में अच्छी बारिश हुई है. अगले दो दिन में ग्वालियर, भोपाल, इंदौर, बैतूल, सागर, होशंगाबाद में तेज़ बारिश के आसार हैं.

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 22, 2018, 2:26 PM IST
News18 Madhya Pradesh
Updated: August 22, 2018, 2:26 PM IST
पिछले दो दिन में हुई बारिश से मध्य प्रदेश का हर कोना तरबतर हो गया. मूसलाधार बारिश ने लोगों की मुसीबत बढ़ा दी. कई गांव और कस्बे पानी से घिर गए. सड़क संपर्क टूट गया. बस्तियों और घरों में पानी भर गया है. रपटे और सड़कें पानी में डूब गए. मौसम विभाग कह रहा है अगले दो दिन और बारिश  होगी.

श्योपुर-बीरपुर इलाके में हुई झमाझम बारिश से नदी नाले उफन पड़े. बीरपुर का विजयपुर से सड़क संपर्क टूट गया. बीरपुर के रास्ते में कई सड़कें पानी में डूब गयीं. विदिशा की नेवन नदी में बाढ़ से आधा दर्जन से ज़्यादा गांव जलमग्न हो गए. मंगलवार को एसडीआरएफ और होमगार्ड की टीम ने लालाखेङी गांव में रेस्क्यू कर लोगों को निकाला. बैस नदी में उफान आने से विदिशा-अशोकनगर और बासौदा मार्ग बंद हो गया. लोग जान जोख़िम में डालकर टूटा हुआ पुल पार करते रहे.



हरदा ज़िले में भारी बारिश से काली माचक नदी में जलस्‍तर बढ़ा.वनांचल के करीब 70 गांवों का तहसील मुख्यालय से सड़क संपर्क टूट गया.उज्जैन में निचले इलाको में पानी भर गया. गदा पुलिया, नयी सड़क,नील गंगा शांति सड़क, एटलस चौराहे, तोप खाना सहित कई निचले इलाकों में पानी भर गया था. लगातार बारिश से क्षिप्रा का जल स्तर भी लगातार बढ़ता रहा. भोपाल में तो बारिश का ये हाल रहा कि शपानी का तेज़ बहाव घरों की दीवार तोड़कर बहा. शाहजहांनाबाद इलाके में घरों में रखे फ्रिज, वॉशिंग मशीन और सोफे तैरने लगे.

बुरहानपुर में रुक रुक कर बारिश होती रही, जिससे ताप्ती नदी का जल स्तर बढ़ गया. कई इलाकों में जलभराव के हालात हो गए थे. प्रशासन ने एहतियात के तौर पर नगर निगम का आपदा प्रबंधन अमला तैनात कर दिया. लेकिन बुधवार को ताप्ती का पानी उतर गया.

अलीराजपुर सहित ज़िले के जोबट, कट्ठिवाडा, सोंडवा और अन्य जगहों पर दो दिन लगातार बारिश हुई. इससे नदी,तालाबों का जलस्तर बढ़ गया और भाबरा-कट्ठिवाडा मार्ग बंद हो गया.

देवास में बेहरी नदी के पुल पर पानी आ गया था. पुल पार करते वक्त बाइक सवार 3 युवक बह गए थे. हालांकि तीनों ने 400 मीटर तैरकर अपनी जान बचायी. मौसम विभाग कह रहा है प्रदेश में 3 सिस्टम सक्रिय हैं. इससे पूरे प्रदेश में अच्छी बारिश हुई है. अगले दो दिन में ग्वालियर, भोपाल, इंदौर, बैतूल, सागर, होशंगाबाद में तेज़ बारिश के आसार हैं.

ये भी पढ़ें - इस बार डेंगू से ज़्यादा इस बीमारी से है ख़तरा, स्वास्थ्य विभाग ने किया अलर्ट
Loading...

सिस्टम पड़ा कमज़ोर : सूखा बीत रहा है सावन, अगस्त में सिर्फ 20 मिमी बारिश
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...