लाइव टीवी

MP: बाढ़ राहत पर अब भी है केंद्र से मदद का इंतज़ार, लग रहे ये आरोप

Anurag Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 18, 2019, 1:40 PM IST
MP: बाढ़ राहत पर अब भी है केंद्र से मदद का इंतज़ार, लग रहे ये आरोप
कांग्रेस विधायक बिसाहूलाल सिंह ने केंद्र पर भेदभाव वाली पॉलिटिक्स का आरोप लगाया

बाढ़ (Flood) पर केंद्र (Centre) की मदद को लेकर कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) ने केंद्र पर हमला बोला है. राज्य सरकार ने बाढ़ राहत (Flood relief) के लिए तत्काल 9 हजार करोड़ की मदद मांगी की थी. अब मदद न मिलने को लेकर राज्य में कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (Bjp) आमने सामने आ गए हैं.

  • Share this:
भोपाल. प्रदेश में बाढ़ से बिगड़े हालातों को सामान्य बनाने के लिए एमपी सरकार (Madhya Pradesh Government) के केंद्र से मांगी गई मदद पर फिलहाल कोई फैसला नहीं हो सका है. मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamalnath) की पीएम मोदी (PM Modi) से 4 अक्टूबर को दिल्ली (Delhi) में हुई मुलाकात के 15 दिन बाद भी केंद्र से मदद जारी नहीं हो पाई है. अब एक बार फिर केंद्र के रवैये को लेकर एमपी की कांग्रेस सरकार बीजेपी पर हमलावर हो गई है.

अब तक नहीं मिली मदद, कांग्रेस का केंद्र पर हमला
बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए केंद्र से मदद की आस लगाए बैठी एमपी सरकार अब मोदी सरकार के खिलाफ फिर से हमलावर हो गई है. बाढ़ और बारिश से प्रदेश के मालवा और ग्वालियर-चंबल इलाके में हुए नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार ने केंद्र से 9 हजार करोड़ की तत्काल मदद देने की मांग की थी. इसको लेकर खुद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 4 अक्टूबर को दिल्ली में पीएम मोदी से मुलाकात कर नुकसान का मेमोरेंडम दिया था. सीएम कमलनाथ ने केंद्र से राज्य की मदद के लिए तत्काल राशि देने की मांग की थी, लेकिन राज्य सरकार के मेमोरेंडम देने के 15 दिन बाद भी केंद्र ने इस पर कोई फैसला नहीं लिया है.

कांग्रेस ने भेदभाव वाली पॉलिटिक्स बताया

कांग्रेस विधायक बिसाहूलाल सिंह ने राज्य की मांग पर अमल नहीं करने को केंद्र के भेदभाव वाली पॉलिटिक्स का हिस्सा बताया है. वहीं कांग्रेस के बीजेपी सरकार पर भेदभाव की सियासत के आरोप पर बीजेपी ने भी पलटवार बोला है. बीजेपी विधायक कृष्णा गौर ने सरकार से पूछा है कि कांग्रेस सरकार बताए कि उसने बाढ़ पीड़ितों के जीवन को सामान्य बनाने के लिए क्या किया.

News - बीजेपी विधायक कृष्णा गौर ने सरकार से पूछा है कि उसने बाढ़ पीड़ितों के लिए क्या किया.
बीजेपी विधायक कृष्णा गौर ने सरकार से पूछा है कि उसने बाढ़ पीड़ितों के लिए क्या किया.


बाढ़ से तबाही का मंज़र
Loading...

प्रदेश में इस बार भारी बारिश और बाढ़ के कारण कई जिलों में तबाही का मंज़र खड़ा कर दिया है. एमपी सरकार ने केंद्र से बारिश और बाढ़ से हुई तबाही को गंभीर आपदा की श्रेणी में रखने की मांग करते हुए तत्काल मदद देने को कहा था. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एनडीआरएफ से निर्माण कार्य समेत किसानों को हुए नुकसान के लिए राशि मांगी थी. राज्य ने केंद्र से 16 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के नुकसान पर शुरुआती तौर पर मदद की मांग की थी. लेकिन पंद्रह दिन बाद भी केंद्र की ओर से राज्य को मदद नहीं मिली है. और एक बार फिर इस मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच तकरार तेज हो गई है.

ये भी पढ़ें -
पंधाना विधायक राम दांगौरे के भाई की भोपाल के डैम में मिली लाश
हीरों की नीलामी के बीच मजदूर लेकर पहुंचा नायाब हीरा... जानें अभी क्यों नहीं बदली किस्मत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 18, 2019, 1:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...