GoM ने अनलॉक के लिए CM के सामने दिया प्रजेंटेशन, जानिए क्या खुलेगा और क्या नहीं

सीएम शिवराज के सामने अनलॉक के लिए GoM ने प्रजेंटेशन दिया

BHOPAL. एमपी को अनलॉक करने के लिए GoM ने सरकारी दफ्तर 50% कर्मचारियों के साथ खोलने लेकिन मॉल, टॉकीज, जिम, स्वीमिंग पूल बंद रखने की सिफारिश की.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश को 1 जून से अनलॉक (Unlock) करने पर विचार और उस पर अमल के लिए सरकार ने एक और ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स(GoM) बना दिया है. यह ग्रुप ऑफ मिनिस्टर शैक्षणिक गतिविधियों को अन लॉक करने पर अपने सुझाव मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को देगा. उससे पहले बनाए गए 6 ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने आज अपना प्रजेंटेशन सीएम के सामने दिया. उसमें  सरकारी दफ्तर 50% कर्मचारियों की उपस्थिति में खोलने और मॉल-सिनेमा हॉल बंद करने की सिफारिश की गयी.

1 जून से अनलॉक के लिए बनाए गए 6 ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने आज अपना प्रजेंटेशन  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने दिया. इसी दौरान यह तय किया गया कि शैक्षणिक गतिविधियों को अन लॉक करने के लिए अलग से एक और GoM बनाया जाए. इसमें स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा सभी विभागों को शामिल किया गया है. एमपी सरकार ने एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू करने का ऐलान किया है. इसके लिए 6 मंत्री समूह बनाए गए हैं जो अपने सुझाव मुख्यमंत्री को देंगे.

सीएम ने देखा प्रेजेंटेशन
शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अनलॉक के लिए बनाए गए 6 मंत्री समूह के सुझाव का प्रेजेंटेशन देखा. मुख्यमंत्री ने कहा हमें प्रदेश से कोरोना संक्रमण समाप्त करना है. धीरे-धीरे जनजीवन सामान्य करना है और तीसरी लहर को रोकना है. साथ ही स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार करना है, जिससे किसी भी स्थिति से हम निबट सकें. कोविड नियंत्रण के संबंध में बनाए गए 6 मंत्री समूहों ने महत्वपूर्ण सिफारिशें की हैं. इन सभी सिफारिशों को ग्राम, वार्ड और जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट समूह में चर्चा के बाद अंतिम रूप दिया जाएगा. भविष्य की रणनीति बनाकर तुरंत अमल किया जाएगा.

अनलॉक के ये आए हैं सुझाव
इससे पहले एमपी में अनलॉक की प्रक्रिया को लेकर बनाए गए ग्रुप ऑफ मिनिस्टर की अहम बैठक हुई थी. गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में अनलॉक की कुछ गाइड लाइन पर सहमति बन गयी है. जिन्हें सीएम के सामने रखा गया है. जिन बातों पर सहमति बनी है उसके तहत-

- सरकारी कार्यालय में 50% कर्मचारियों की उपस्थिति हो सकेगी

-.राजनीतिक और धार्मिक गैदरिंग बंद रहेंगी. एक समय में मंदिर में पुजारी के अलावा दो अन्य श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे.

-मॉल, टॉकीज, जिम, स्विमिंग पूल फिलहाल बंद रहेंगे.

-निर्माण कार्य और सर्विस प्रोवाइडर संबंधी गतिविधियां चालू रखने पर सहमति.

-हवाई यात्रा शुरू रहेंगी. पंजीयन और एग्रीकल्चर कार्यालय खुलेंगे.

-शादी समारोह में दोनों पक्षों से 20-20 संख्या रहेगी. मृत्यु भोज में 20 की संख्या रहेगी. दाह संस्कार में 20 लोग रहेंगे.

-राज्यों के बॉर्डर पर सख्ती रहेगी, आर्थिक गतिविधि चालू रहेंगी.