• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • झाबुआ उपचुनाव: हार के बाद BJP कार्यालय में हो रहा था मंथन, अचानक फोन आने के बाद शिवराज दिल्‍ली रवाना

झाबुआ उपचुनाव: हार के बाद BJP कार्यालय में हो रहा था मंथन, अचानक फोन आने के बाद शिवराज दिल्‍ली रवाना

संबल योजना को लेकर आरोपों के घेरे में शिवराज सरकार

संबल योजना को लेकर आरोपों के घेरे में शिवराज सरकार

झाबुआ विधानसभा उपचुनाव (Jhabua assembly by-election) में मिली हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan), प्रदेश संगठन मंत्री सुहाष भगत और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiy) समेत इंदौर के तमाम नेता प्रदेश भाजपा कार्यालय में हुई मंथन बैठक में शामिल हुए. हालांकि यकायक फोन आने के बाद शिवराज दिल्‍ली रवाना हो गए हैं.

  • Share this:
भोपाल. झाबुआ विधानसभा उपचुनाव (Jhabua assembly by-election) में मिली हार के बाद इंदौर संभागीय संगठन की बैठक हुई. इस बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan), प्रदेश संगठन मंत्री सुहाष भगत और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (BJP National General Secretary Kailash Vijayvargiya) समेत तमाम इंदौर भाजपा के बड़े नेता मौजूद रहे. इन सभी नेताओं पर भाजपा चुनाव की जिम्मेदारियां थीं. इस दौरान झाबुआ में हार की समीक्षा कर कारणों को जानने की कोशिश की गई. हालांकि अचानक फोन आने के बाद शिवराज दिल्‍ली रवाना हो गए. आपको बता दें कि झाबुआ उपचुनाव को लेकर मध्‍य प्रदेश में सत्‍तारूढ़ कांग्रेस और भाजपा अपनी-अपनी जीत का दावा कर रहीं थीं, लेकिन कांग्रेस के कांतिलाल भूरिया (Kantilal Bhuria) अपने विरोधी भानू भूरिया पर भारी पड़ गए हैं.

बैठक बीच में छोड़ दिल्‍ली रवाना हुए शिवराज
इस मंथन बैठक में शामिल पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अचानक ही बैठक को छोड़ कर दिल्ली के लिए रवाना हो गए. उन्हें फोन आने के बाद तुरंत ही दिल्ली के लिए रवाना होना पड़ा. इस दौरान वे खासी हड़बड़ी में नजर आए.

इंदौर के नेता संभालेंगे हरियाणा में सरकार बनाने की कमान
इसके अलावा हरियाणा चुनाव में भाजपा को मिली कम सीटों को देखते हुए सरकार बनाने के लिए इंदौर के कुछ नेताओं को भाजपा से बागी होकर निर्दलीय चुनाव जीतने वाले विधायकों को साधने की भी जिम्मेदारी दी गई है. आपको बता दें कि इंदौर भाजपा के ज्यादातर नेताओं ने 2014 में हरियाणा विधानसभा चुनाव में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के साथ हरियाणा के प्रभारी रहते हुए उनके साथ काम किया था. जबकि भाजपा ने बड़े अंतराल के साथ चुनाव जीता था. लिहाजा इंदौर भाजपा के नेता हरियाणा के बागी नेताओं के संपर्क में हैं. यही नहीं, इंदौर भाजपा के कुछ नेता हरियाणा के लिए रवाना भी होंगे, जो सरकार बनाने में अपनी अहम भूमिका निभा सकते हैं.

ये भी पढ़ें-
भूरिया की जीत से जश्‍न में डूबी कांग्रेस, मंत्री घनघोरिया और विधानसभा अध्यक्ष ने कही ये बात

उज्‍जैन के इस अस्‍पताल में 'हुक्‍के' से होता है मरीजों का इलाज, जानिए पूरी कहानी...

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज