गौर साहब ने डायरी में लिखी आख़िरी बात : लकवे का दौरा पड़ा है, ICU में डॉक्टर आए हैं देखने

बाबूलाल गौर इस डायरी को राजनीतिक FIR कहते थे. दरअसल ये उनके सियासी सफर का दस्तावेज़ थी.

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 21, 2019, 2:18 PM IST
गौर साहब ने डायरी में लिखी आख़िरी बात : लकवे का दौरा पड़ा है, ICU में डॉक्टर आए हैं देखने
बाबूलाल गौर रोज डायरी लिखते थे
Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 21, 2019, 2:18 PM IST
ये कम ही लोग जानते होंगे कि बाबूलाल गौर रोज़ डायरी लिखते थे. इसमें वो अपने जीवन की हर छोटी बड़ी बात-यादें-मुलाक़ातें नोट करते थे. यहां तक कि अपनी बीमारी का ज़िक्र भी गौर साहब ने इसमें किया. लेकिन 21 अगस्त को गौर साहब ने नहीं बल्कि वक़्त ने इसमें इबारत लिखी और ज़माने ने इसे पढ़ा.
बाबूलाल गौर एक अज़ीम शख़्सियत थे. वो जिससे मिलते थे उस पर अपने खुशमिजाज़ स्वभाव की छाप छोड़ते थे. वो दुनिया के लिए जितने सरल-सहज स्वभाव के थे, अंदर से उतने ही गंभीर थे. उनकी गंभीरता का अंदाज़ इसी से लगाया जा सकता है कि वो रोज डायरी लिखते थे जिसमें हर छोटी-बड़ी बात दर्ज रहती थी.

गौर साहब रोज़ लिखते थे डायरी


बाबूलाल गौर इस डायरी को राजनीतिक FIR कहते थे. दरअसल ये उनके सियासी सफर का दस्तावेज़ थी. इसमें उनकी सारी सियासी-सामाजिक मुलाकातों-बातों-फैसलों का ज़िक्र है. वो 28 साल निरंतर इसमें अपनी बात लिखते रहे. आखिरी बार 1 जून 2019 को उन्होंने अपनी बीमारी की बात लिखी...लेकिन वो इनका आख़िरी नोट बनकर रह गया.



आख़िरी बात
गौर साहब ने डायरी में अपनी आख़िरी बात बीमारी के बारे में लिखी.इ
Loading...

"डायरी में लिखा दिन में 11 बजे लकवे का दौरा पड़ा"
"बांया हाथ शून्य हो गया "
"उसी हालत में मैं करवट बदल कर सोया "
"आईसीयू में डॉक्टर आएं हैं मुझे देखने "
बस ये पेज बीजेपी के दिग्गज और समर्पित नेता कुशल शिल्पकार बाबूलाल गौर की डायरी का आख़िरी पेज बनकर रह गया.

ये भी पढ़ें-बाबूलाल गौर के निधन पर भोपाल से लेकर दिल्ली तक शोक

PHOTOS : बाबूलाल गौर-विरोधी भी थे इस 'बुलडोजर मंत्री' के फैन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 12:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...