विधानसभा अध्यक्ष के भाई की हुई घर वापसी, अब कांग्रेस से हुए नाराज

गिरिजाशंकर होशंगाबाद से कांग्रेस से टिकट मांग रहे थे लेकिन सरताज सिंह को टिकट मिलने के बाद नाराज़ हो गए

Makarand Kale | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 15, 2018, 3:29 PM IST
विधानसभा अध्यक्ष के भाई की हुई घर वापसी, अब कांग्रेस से हुए नाराज
गिरिजाशंकर ने प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे के सामने पार्टी की सदस्यता ली
Makarand Kale | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 15, 2018, 3:29 PM IST
मध्य प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष सीताशरण शर्मा के भाई और कुछ साल पहले होशंगाबाद में बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुए गिरिजाशंकर शर्मा बीजेपी में वापस आ गए हैं. गिरिजाशंकर ने प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे के सामने पार्टी की सदस्यता ली. (इसे पढ़ें- मध्य प्रदेश चुनाव 2018: क्या उमा भारती की घरवापसी का रास्ता खुल रहा है?)

दरअसल, बीते चुनावों के दौरान गिरिजाशंकर कांग्रेस में शामिल हो गए थे. गिरिजाशंकर होशंगाबाद से कांग्रेस से टिकट मांग रहे थे लेकिन सरताज सिंह को टिकट मिलने के बाद नाराज़ हो गए और लगातार विरोध दर्ज कराने के बाद अब बीजेपी में वापस आ गए. पार्टी में लौटे गिरिजाशंकर का प्रदेश प्रभारी और तमाम वरिष्ठ नेताओं ने बीजेपी कार्यालय में स्वागत किया.

बीजेपी के प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि पार्टी में गिरिजाशंकर जी वापस आए हैं, उनका हम स्वागत करते हैं, हमारे परिवार के पुराने सदस्य हैं, कुछ वजहों से दूर हो गए थे अब वो लौट आएं हैं उनका स्वागत करते हैं. वहीं गिरिजाशंकर शर्मा ने कहा कि मैं कांग्रेस में गया था लेकिन कांग्रेस और सरताज सिंह ने जिस तरह से साजिश की मैं उसका विरोध करता रहा हूं. मैंने हमेशा होशंगाबाद के विकास पर फोकस किया है औऱ वहीं की राजनीति करूंगा.

बता दें कि पूर्व मंत्री और बीजेपी के दिग्गज रहे सरताज सिंह पार्टी से नाराज होकर कांग्रेस ज्वाइन कर लिया. इतना ही नहीं कांग्रेस ने उन्हें होशंगाबाद से टिकट भी दे दिया है.

यह पढ़ें- एमपी में कर्नाटक और गुजरात की गलती नहीं दोहराना चाहती कांग्रेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2018, 3:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...