Corona Recovery Rate in MP: MP में लगातार सुधर रहा रिकवरी रेट, ऑक्सीजन संकट से भी मिलेगी राहत

डूंगरपुर जिला जेल में 65 कैदियों की जांच में 32 कोरोना पॉजिटिव मिले. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

डूंगरपुर जिला जेल में 65 कैदियों की जांच में 32 कोरोना पॉजिटिव मिले. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Coronavirus Recovery Rate in Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश कोरोना रिकवरी रेट बढ़ने से देश में सातवें से 11 वें नंबर पर आ गया है. जबकि कोरोना संक्रमण दर भी स्थिर बनी हुई.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस (Corona in Madhya Pradesh) को लेकर अच्‍छी खबर सामने आ रही है. दरअसल लगातार रिकवरी रेट में सुधार आने से अब देश में दूसरे राज्यों की तुलना में प्रदेश की स्थिति में भी सुधार आया है. रिकवरी रेट (Recovery Rate) बढ़ने से मध्य प्रदेश देश में सातवें से 11 वें नंबर पर आ गया है. मध्‍य प्रदेश में हर रोज 12 हजार के आसपास संक्रमित मरीज मिल रहे हैं, जिससे शिवराज सरकार की टेंशन लगातार बढ़ रही हैं, लेकिन रिकवरी रेट में सुधार से राहत मिली है.

बता दें कि मध्‍य प्रदेश में सोमवार को 11612 मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौटे हैं. इस हिसाब से रिकवरी रेट 80.92 फीसदी रहा है. वहीं, अब तक 4,14,325 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. इसके अलावा 21 अप्रैल को एक्टिव केस की संख्या के हिसाब से मध्य प्रदेश देश में सातवें नंबर पर था. अब 11 वें स्थान पर आया. संक्रमण दर भी बीते 3 दिन से 23 से 24 फीसदी के बीच बनी हुई है.वहीं, अभी कुल एक्टिव केस में 72 फीसदी मरीज होम आइसोलेशन और 28 फीसदी मरीज अस्पताल में भर्ती हैं. मध्‍य प्रदेश के निजी अस्पतालों में 53163 बेड हैं, इनमें 71 फीसदी से ज्यादा भरे हुए हैं. इसमें से 86 फीसदी ऑक्सीजन बेड, 94 फीसदी आईसीयू बेड और 44 फीसदी सामान्य बेड भरे हैं.

ऑक्सीजन से मिलेगी राहत

बीना रिफाइनरी में सोमवार को दूसरे ऑक्सीजन प्लांट का ट्रायल शुरू हो गया है. इससे पहले 20 अप्रैल को एक प्लांट का ट्रायल शुरू हो चुका है. दोनों प्लांटों से मध्य प्रदेश को 90 टन ऑक्सीजन मिलेगी. रिफाइनरी के पास तैयार हो रहे अस्पताल को पाइप लाइन से ऑक्सीजन सप्लाई की जाएगी. आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी बीना रिफाइनरी जाएंगे, क्‍योंकि रिफाइनरी के पास स्थाई रूप से 1000 बेड का अस्पताल तैयार किया जा रहा है.
मध्य प्रदेश पहुचेंगी ऑक्सीजन एक्सप्रेस

कल देर रात बोकारो से ऑक्सीजन एक्सप्रेस मध्य प्रदेश के लिए रवाना हो गई है. यह एक्सप्रेस आज रात तक एमपी पहुचेंगी. भोपाल के साथ जबलपुर ऑक्सीजन एक्सप्रेस पहुचेंगी. ऑक्सीजन के छह टैंकर भोपाल और जबलपुर आएंगे. ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए ऑक्सीजन एक्सप्रेस लगातार जारी रहेगी.

इलाज में बिजली कर्मचारियों को मिलेगी राहत



बिजली कर्मचारियों को कोविड इलाज के लिए 3 लाख रुपये एडवांस मिलेंगे. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कर्मचारियों को मेडिकल एडवांस के रूप में तीन लाख रुपये मिलेंगे. इसके अलावा कंपनी के संविदा कर्मचारियों को 70 हजार दिए जाएंगे. कंपनी के एमडी गणेश शंकर मिश्रा ने कोरोना के हालात को देखते हुए कोविड सहायता एडवांस योजना शुरू की है. कोरोना की दूसरी लहर में कंपनी के 270 कर्मचारी पॉजिटिव हो चुके हैं. इनमें 120 कर्मचारी मैदानी अमले के हैं, तो अभी तक 11 कर्मचारियों की जान जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज