अच्छी खबर : MP में प्राइवेट लैब्स-अस्पतालों पर सरकार का अंकुश, कोरोना टेस्ट के रेट तय

निजी पैथ लैब और अस्पताल में इस आपदा को अवसर मानकर पैसा कमाया जा रहा था. (News18 क्रिएटिव)
निजी पैथ लैब और अस्पताल में इस आपदा को अवसर मानकर पैसा कमाया जा रहा था. (News18 क्रिएटिव)

कोरोना संक्रमितों (Corona infected) की दर में बीते चार दिन में कमी आई है. कोरोना से रोजाना 30 से ज्यादा मौतों के मामले 22 दिन बाद कम हुए हैं.बीते 24 घंटों में प्रदेश में 20 मरीजों (Patients) की मौत हुई है. इससे पहले 8 सितंबर को 20 मरीजों की मौत दर्ज की गयी थी

  • Share this:
भोपाल.मध्य प्रदेश में प्राइवेट लैब्स (Private lab) में कोरोना (Corona) की जांच के लिए सरकार ने रेट (Rate) तय कर दिए हैं. अब कोई भी लैब या प्राइवेट हॉस्पिटल उससे ज़्यादा पैसा नहीं वसूल पाएगा. अगर वसूला तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. इस बीच राहत भरी खबर ये है कि पिछले चार दिन में कोरोना संक्रमितों की संख्या और मृत्यु दर कम हुई है

कोरोना की जांच कराने के लिए लोगों पर खर्च का कुछ ज़्यादा ही बोझ पड़ रहा है. अन्य राज्यों के मुकाबले एमपी में टेस्ट और इलाज के रेट काफी ज़्यादा हैं. जिस तरह से प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है उसे देखते हुए सरकार ने जनता को राहत देने का आदेश जारी कर दिया है. प्राइवेट लैब कोरोना टेस्ट के नाम पर मनमाने पैसे ऐंठ रहे थे. इसलिए अब सरकार ने जांच के रेट तय कर दिए हैं. मध्य प्रदेश में कहीं भी निजी अस्पताल या निजी लैब जिसे कोरोना टेस्ट करने की मान्यता है वहां अब इससे ज़्यादा पैसे नहीं वसूले जा सकेंगे

ये हैं कोरोना टेस्ट के रेट
-आरटीपीसीआर (RTPCR) जांच 1200 रुपए में होगी.यदि मरीज सैंपल घर से देना चाहता है तो उसका दो सौ रुपए अतिरिक्त चार्ज लगेगा.
-इसी तरह एंटीजन टेस्ट के लिए 900 रुपए देना होंगे. यदि सैंपल घर से दिया जा रहा है तो दो सौ रुपए अतिरिक्त चार्ज देना होगा.


-इस निर्धारित शुल्क में सरकार ने सभी तरह के चार्ज को शामिल किया है. जैसे ट्रांसपोर्टेशन, पीपीई किट, केमिकल आदि.

सरकार की नकेल
कोरोना संक्रमण के नाम पर एक तरफ जहां स्वास्थ्य विभाग कई तरह की रियायतें लोगों तक पहुंचने की कोशिश में जुटा है. वहीं निजी पैथ लैब और अस्पताल में इस आपदा को अवसर मानकर पैसा कमाया जा रहा था.इस पर अब सरकार ने नकेल कसी है.

अच्छी खबर
अच्छी खबर यह भी है कि कोरोना संक्रमितों की दर में बीते चार दिन में कमी आई है. कोरोना से रोजाना  30 से ज्यादा मौतों के मामले 22 दिन बाद कम हुए हैं.बीते 24 घंटों में प्रदेश में 20 मरीजों की मौत हुई है. इससे पहले 8 सितंबर को 20 मरीजों की मौत दर्ज की गयी थी.स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बीते 24 घंटों में 2041 नए संक्रमित मिले और 2545 मरीज डिस्चार्ज हुए हैं.

एमपी हेल्थ बुलेटिन
एमपी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार गुरुवार को अब तक कुल संक्रमित - 130088
कुल मौत -2336
स्वस्थ हुए - 107279
एक्टिव केस -20473
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज