अपना शहर चुनें

States

MP में कोरोना से निपटेगी 9 सदस्यीय टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी, रोज देगी सरकार को रिपोर्ट

कोरोना से निपटने के लिए डॉक्टर्स दिन-रात खुद को जोखिम में डाल कर मेहनत कर रहे हैं  (कॉन्सेप्ट इमेज)
कोरोना से निपटने के लिए डॉक्टर्स दिन-रात खुद को जोखिम में डाल कर मेहनत कर रहे हैं (कॉन्सेप्ट इमेज)

टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी करोना के नियंत्रण की कार्य योजना तैयार करेगी और प्रदेश की जरूरतों के मुताबिक तकनीकी निर्देशों जैसे सर्विलेंस, सैंपल कलेक्शन, क्लिनिकल मैनेजमेंट, आइसोलेशन, क्‍वारंटाइन गाइडलाइन बनाने और उनके लिए समिति बनाएगी

  • Share this:
भोपाल. कोरोना आपदा (Corona Epidemic) के खिलाफ लड़ाई को और मजबूत करने के लिए मध्य प्रदेश सरकार (Madhya pradesh) ने टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी बना दी है. स्वास्थ्य विभाग के संचालक डॉक्टर सुदाम खाडे को इसकी कमान सौंपी गई है. यह कमेटी कोरोना की रोकथाम के लिए योजना बनाएगी और सरकार को रोज अपनी रिपोर्ट सौंपेगी.

ये टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी अपनी रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव को देगी. उसके आधार पर आने वाले समय की रणनीति पर काम किया जाएगा. सरकार ने जिस कमेटी का गठन किया है उसका अध्यक्ष स्वास्थ्य विभाग के संचालक सुदाम खाड़े को बनाया गया है. डॉक्टर संतोष शुक्ला इस समिति के समन्वयक बनाए गए हैं. इसके अलावा समिति में 7 और सदस्य शामिल किए गए हैं. इनमें आईएएस अधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के एक्सपर्ट और अधिकारी शामिल हैं. कमेटी में विदिशा कलेक्टर पंकज जैन को भी बतौर सदस्य शामिल किया गया है.

ये है नौ सदस्यीय टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी



1. डॉक्टर सुदामा खाड़े (संचालक स्वास्थ्य विभाग) अध्यक्ष
2. डॉ.संतोष शुक्ला (अपर संचालक, स्वास्थ्य विभाग) समन्वयक

3. डॉ. दिनेश कुमार पाल, (HOD, सोशल मेडिसिन, GMC) सदस्य

4. डॉ. लोकेंद्र दवे (HOD पलमोनरी मेडिसिन) सदस्य

5. डॉ. देवाशीष विश्वास (HOD मिक्रोबियोलॉजी एम्स) सदस्य

6. डॉ. प्रज्ञा तिवारी (उपसंचालक, NHM) सदस्य

7. डॉ. अभिजीत पाखरे (अस्सिटेंट प्रोफेसर, एम्स ) सदस्य

8. डॉ. सागर खडंगा (असिस्टेंट प्रोफेसर, एम्स) सदस्य

9. डॉ. पंकज जैन, (कलेक्टर, विदिशा) सदस्य

क्या करेगी समिति ?

टेक्निकल एडवाइजरी कमेटी करोना के नियंत्रण की कार्य योजना तैयार करेगी और प्रदेश की जरूरतों के मुताबिक तकनीकी निर्देशों जैसे सर्विलेंस, सैंपल कलेक्शन, क्लिनिकल मैनेजमेंट, आइसोलेशन, क्‍वारंटाइन गाइडलाइन  बनाने और उनके लिए समिति बनाएगी. समिति हर रोज अपनी रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव को भेजेगी.

ये भी पढ़ें-

टमाटर पर कोरोना की मार : किसानों ने ढोर-डांगर के खाने के लिए खेत में छोड़ी फसल

भोपाल में ड्यूटी पर तैनात पुलिस के जवान ने खुद को गोली मारी, हालत गंभीर

सभी ट्रेनें 3 मई तक कैंसिल रहेंगी, टिकट का पूरा पैसा रिफंड होगा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज