लाइव टीवी

पटवारी संघ से बनी बात, क्या ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन मानेगा ? सरकार ने बातचीत के लिए बुलाया

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: October 7, 2019, 2:57 PM IST
पटवारी संघ से बनी बात, क्या ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन मानेगा ? सरकार ने बातचीत के लिए बुलाया
गोविंद सिंह राजपूत से मंगलवार को ट्रांसपोर्टर्स मिलेंगे

अपनी मांगों को लेकर ट्रक ऑपरेटर एसोसिएशन ने बीते मंगलवार को सीएम कमलनाथ से मुलाकात की थी. मुलाकात के दौरान एसोसिएशन ने त्योहारों का मौसम देखते हुए वैट कम करने की मांग रखी. लेकिन सीएम कमलनाथ ने किसानों के कर्ज़माफी का हवाला देते हुए वैट में रियायत से इंकार कर दिया था

  • Share this:
भोपाल.पटवारियों के बाद अब मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में ट्रांसपोर्टर्स (transporters)की हड़ताल भी खत्म होने की उम्मीद बंध गयी है. परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत(govind singh rajput) ने ऐसे संकेत दिए हैं. प्रदेश के ट्रांसपोर्टर्स वैट (VAT)और लाइफटाइम टैक्स के विरोध में हड़ताल कर रहे हैं. हालांकि एसोसिएशन में मतभेद के कारण पूरे प्रदेश में हड़ताल का असर नहीं है. सिर्फ इंदौर में व्यवस्था ठप्प पड़ गयी है.

मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने न्यूज18 से कहा कि सरकार हड़ताल ट्रांसपोर्टर एसोसिएशन से बातचीत के लिए तैयार है. एसोसिएशन के पदाधिकारियों को मंगलवार दोपहर 12 बजे मंत्रालय वल्लभ भवन में बातचीत के लिए बुलाया गया है. मंत्री के इस बयान के बाद माना जा रहा है कि पटवारी संघ की तरह ट्रांस्पोर्ट एसोसिएशन भी बातचीत के बाद हड़ताल खत्म करने का ऐलान कर सकता है.
हड़ताल की वजह
पेट्रोल डीजल पर वैट और लाइफ टाइम टैक्स के विरोध में ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन 5 अक्टूबर से हड़ताल पर है. एसोसिएशन दो फाड़ होने के कारण भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर के ट्रांसपोर्टर्स हड़ताल में शामिल नहीं हुए, लेकिन इंदौर में हड़ताल का व्यापक असर है. सबसे बड़ी परेशानी डीजल टैंकर एसोसिएशन के शामिल होने हुई. हड़ताल के कारण कुछ शहरों में पेट्रोल-डीजल की सप्लाई रुक गयी. इंदौर में शहर के 90 फीसदी पेट्रोल पम्पों पर स्टॉक खत्म होने से वो ड्राई हो गए. अधिकतर पेट्रोल पंप पर नो स्टॉक का बोर्ड लटक गया. जो 10 फीसदी पेट्रोल पंप खुले हैं उन पर ग्राहकों की 1 से 2 किलोमीटर की लंबी लाइन लगी रही.

कैसे बिगड़ी बात ?
अपनी मांगों को लेकर ट्रक ऑपरेटर एसोसिएशन ने बीते मंगलवार को सीएम कमलनाथ से मुलाकात की थी. मुलाकात के दौरान एसोसिएशन ने त्योहारों का मौसम देखते हुए वैट कम करने की मांग रखी. लेकिन सीएम कमलनाथ ने किसानों के कर्ज़माफी का हवाला देते हुए वैट में रियायत से इंकार कर दिया था. उसके बाद भोपाल में प्रदेश भर के ट्रक ऑपरेटर्स की बैठक में हड़ताल का फैसला लिया गया. हालांकि इस हड़ताल में पूरे प्रदेश के ट्रांसपोर्टर्स शामिल नहीं हुए.
एमपी में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल
Loading...

मध्य प्रदेश सरकार ने हाल ही में पेट्रोल, डीजल और शराब पर 5 फीसदी वैट बढ़ाया है. वैट बढ़ने की वजह से देश के अन्य राज्यों की तुलना में मध्य प्रदेश में पेट्रोल डीजल सबसे महंगा हो गया है. इसके मुकाबले में भाड़ा नहीं बढ़ाया गया. इस वजह से ट्रक ऑपरेटर्स एसोसिएशन नाराज़ है और वैट कम करने की मांग कर रहा है.

ये भी पढ़ें-मध्य प्रदेश में मंत्री जीतू पटवारी से नाराज़ पटवारियों की हड़ताल ख़त्म

Suicide का लाइव VIDEO:देखिए फांसी पर झूल चुके युवक की सिपाही ने कैसे बचाई जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 2:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...